थकी आंखों को दें खास देखभाल
Updated : 2018-01-12 16:10:36

Image


घर हो या ऑफिस में दिन भर लगातार काम करने और नींद न पूरी होने का सबसे ज्यादा असर आंखों पर पडता है। इन की खूबसूरती व सेहत बनाए रखने के लिए जानिए कुछ अहम सुझाव...

लगातार आंखों से काम न ले कर यदि बीचबीच में उन्हें आराम दें तो शाम तक आंखें थकेंगी नहीं। लेकिन कामकाजी महिलाएं तो यही कहेंगी कि भई, हमारे पास आराम के लिए टाइम ही कहां होता है सुबह से शाम तक इतनी काम होता है। कि आराम करने की फुर्सत ही नहीं मिलती। तो आइये, हम आप को बताते हैं कि ज्यादा समय खर्च किए बिना हम कैसे अपनी आंखों को आराम दे सकते हैं।

कंप्यूटर पर काम करते हुए हर 1 घंटे के बाद अपनी आंखें 30 सैकंट के लिए बंद कर लें और पुतलियों को गोलाई में घुमाएं। इससे आंखों की मांसपेशियों को आराम मिलेगा।

थकी आंखें को मलें नहीं वरना इस से इन्फैक्शन होने का हर रहता है। मलने के बजाय आंखें को झपका लें। झपकाने से आंखों को आराम मिलेगा।ये भी पढ़ें - गुडहल के फूल के इतने चमत्कारी लाभ जानकर हैरान हो जाएगे आप!

 कौंटैक्ट लैंस 10-12 घंटे से उतार कर चश्मे का प्रयोग करें, इस से आंखों को आराम मिलेगा। बीमारी में न तो टीवी देखें और न ही लेट कर पढें, इससे आंखें जल्दी थकेंगी नहीं।

आंखें ज्यादा थकी होने पर अपनी हथेलियों को आपस में रगडें और फिर उन्हें आंखों पर रखें। हथेलियों की गरमी आंखों को आराम देगी।घर में पहले से पडा या कैमिस्ट से खुद ही ले कर कोई आईड्रौप आंखों में न डालें। केवल डाक्टर ही आपकी आंखें देख कर बता सकता है कि आपकी आंखों के लिए कौन सा आईड्रौप उपयुक्त है।



Logo
अनन्नास पाचक तत्वों से भरपूर, शरीर को शीघ्र ही ताजगी देने वाला, हृदय व मस्तिष्क को शक्ति देने वाला कृमि नाशक, स्फूर्ति दाई फल है। ये वर्ण में निखार लाता है। आयुर्वेद के ग्रंथों में इसके गुणों की व्यापाक रूप से चर्चा की गई है और इसके सेवन को अत्यधिक फायदेमंद और बलदायक बताया गया है। अनन्नास के पौधों में जनवरी-फरवरी में फल लगना आरम्भ होता है। इसे नवम्बर तक मार्केट में फलों की दुकानों पर... Read more
Logo
टमाटर जितना देखने में अच्छी लगता है, उतनी ही वह खाने में स्वादिष्ट भी है और स्वास्थ्यवर्धक भी। तभी तो टमाटर का उपयोग सब्जी के रूप में करने साथ-साथ सलाद और चटनी के रूप में बहुतायम में किया जाता है। टमाटर में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, विटामिन सी पाये जाते हैं। एसिडिटी की शिकायत होने पर टमाटरों की खुराक बढाने से यह शिकायत दूर हो जाती है। लाल-लाल टमाटर देखने में बहुत सुंदर और खाने में स... Read more
Logo
ठंडी हवा के थपेड़े त्वचा की सारी नमी को चुरा लेते हैं और त्वचा रूखी और खिंची-खिंची लगती है और इन सबका सबसे बुरा असर पैरों पर पडता है जिसमें एडियां रूखी और फटने लगती हैं। यह तो हम सब ही अच्छे से जानते हैं कि पैरों की त्वचा में तेल ग्रंथी नहीं होती तो ऐसे में वे रूखे हो जाते हैं इसलिये आज हम आपको कुछ टिप्स देगे जिसको रोजाना आजमा कर आप सर्दियों में पैरों की अच्छी देखभाल कर सकती हैं। नाखूनों... Read more
Logo
सर्दियों में हेल्थ दिनचर्या को बनाए रखना काफी मुश्किल होता है। सर्दियों में दिन छोटे होते हैं और रातें बडी जिससे काम आधे-अधूरे रह जाते हैं। सर्दियों में बाहर जाकर व्यायाम करना भी एक सिरदर्द बन जाता है। बाहर जाकर काम करने का मन नहीं करता फिर चाहे वो वॉक पर जाना हो या फिर बच्चे के साथ खेलना हो। मगर इन सब के बावजूद भी आप कुछ बातों को ध्यान में रखकर सर्दियों में भी फिट रह सकते हैं। सरोटोन... Read more
Logo
आप ने यह तो सुना ही होगा कि खाओ दही रहों सही, यह बात गलत नहीं है। दही में इतने ही गुण होते हैं जिसके खाने से शरीर में बीमारी से लडने की शक्ति तो होती है। साथ ही यह दही को चेहरे पर चमक भी लाता है। गर्मियों के दिनों में दही की लस्सी पीने से बहुत फायदा होता है। दूध को गरम करके जो दही जमाया जाता है वह खाने में बहुत अच्छा होता है तासीर में ठंडा, चिकना, हल्का, यह भूख को भी बढता है। बूरा मिला दही पित... Read more
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> सर्दियों में त्वचा में रूखापन आना आम बात है, इसलिए त्वचा में कोमलता बरकरार रखने के लिए पपीता, नींबू या शहद युक्त नैचुरल मॉइश्चराइजर या कोकोनट मास्क का इस्तेमाल करें। ‘जीवा आयुर्वेदा’ के निदेशक प्रताप चौहान और ‘जस्ट हब्र्स’ की ब्रांड निदेशक मेघा सबलोक ने इस संबंध में ये सुझाव दिए हैं :  * गुड़हल, शहद और नारियल तेल से एंटी-एजिंग मास्क बनाने के लिए गु... Read more
Logo
न्यूयॉर्क (एजेंसी) >>>>>> बेरियाट्रिक सर्जरी (पेट की सर्जरी) करानेवाले किशोर/किशोरियों में हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। एक नए शोध में यह दावा किया गया है। शोध के निष्कर्षों से पता चलता है कि बेरियाट्रिक या वजन घटाने की सर्जनी अगर किशोरावस्था में ही करा ली जाती है, तो यह जीवन में बाद में भी अनियमित ग्लूकोज चयापचय, एथोरोसलेरॉसिस की हृदय की विफलता और स्ट्रोक के विकास और प्रगति को क... Read more
Logo
वैसे तो लौंग को गरम मसाले के तौर पर रसोई में जाना जाता है। लेकिन लौंग लोकप्रिय मसाला हैं और किचन में यह बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान रखती है। कई लोग तो इसे मुंह को ताजा रखने के लिए काम में लेते हैं साथ ही लौंग से आप हिचकियां रोकने और सिरदर्द को दूर रखने के लिए काम ले सकते हैं। वहीं लौंग में उच्चतम एंटीऑक्सीडेंट जो एलर्जी, माउथवॉश में एंटीसेप्टिक के रूप में उपयोगी साबित होती है। लौंग का ते... Read more
Logo
मेवे का प्रयोग उत्तम औषधि के रूप में किया जाता है। क्येांकि मेवा स्वाद की नहीं बल्कि सेहत की दृष्टि से भी उतनी ही फायदेमंद हैं। काजू में मैग्नीशियम पाया जाता हैं जो उच्च रक्तचाप को कम करने में और दिल के दौररे को रोकने में मदद करता है। काजू कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी संतुलित रखता है। काजू में प्रोटीन की मात्रा काफी होती है जो बॉडी व हड्डियों को मजबूत बनाती है। चाहे मिठाई में काजू कतली ... Read more
Logo
आजकल ऑफिस और घर के काम के चलते। थकान बहुत हो जाती है। यदि दिन भर कठिन काम के बाद आपको एक आराम प्रदान करने वाले स्नान की जरूरत है, तो एक स्पा की तरह आराम प्रदान करने वाले स्नान करने की विधि जानने के लिए, यहां कुछ आसान टिप्स है। दिनभर की थकान और तनाव को खत्म करने के लिए किए गए पिछली बार के स्नान के बारे में सोचिए। खुद को आराम करने के लिए समय दीजीए। आराम करने से पहले अपने सभी काम और होमवर्क नि... Read more
Logo
पपीता एक फल है। इसके कच्चे और पके फल दोनों ही उपयोग में आते है। पपीता एक ऐसा फल है जो पूरे साल आसानी से मिल जाता है। भारत के ज्यादातर घरों में पपीते का पौधा लगा होता है। पपीता जितना स्वादिष्ट होता है, यह उतना ही हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी है। पपीते के बीज के भी ढेर सारे उपयोग है। पपीता त्वचा और बालों के लिए भी अच्छा होता है। पपीते का उपयोग सलाद के रूप में भी किया जाता है। पपीते मे... Read more
Logo
गुलाबजल एक प्राकृतिक उत्पाद है। गुलाब सिर्फ खूबसूरती के लिए ही नहीं, बल्कि आपकी सेहत के लिए भी फायेदमंद है। इसके सही इस्तेमाल के लिए गुलाब को कई प्रक्रियाओं से गुजार कर आप तक पहुंचाना आसान काम नहीं। इस गुलाब के जल से आप अपना सौंदर्य कैसे निखार सकती हैं, इसी संबंध में यहां दिए जा रहे हैं। कुछ कारगर उपाय जानकर दंग रह जाएंगे आप... गुलाबजल एंटीसेप्टिक और एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर म... Read more
Logo
न्यूईयर पार्टी के लिए जब लडकियां तैयार होती हैं तो वह अपने नाखूनों की सजावट पर बहुत ध्यान देती हैं। ड्रेस से मैच करती हुई नेल पॉलिश लगाना तथा नेल आर्ट से नाखूनों को नया लुक देना बिल्कुल आम बात हो गई हा। पर यह जान लेना बहुत ही जरूरी है कि नाखून पर कोई भी सजावट तभी अच्छी लगती है जब वह बिल्कुल स्वस्थ्य हों। आइये जानते हैं नाखूनों को हेल्दी रखने के टिप्स हैं। सबसे अहम बात यह कि आपका खाना ह... Read more
Logo
यदि आप अपने बच्चों के मानसिक कौशल व बुद्धिमत्ता (आईक्यू) को बढ़ाना चाहते हैं तो सप्ताह में एक बार मछली जरूर खिलाएं। शोध के निष्कर्षो से पता चला चला है कि मछली नहीं खाने वाले या कभी-कभी खाने वाले बच्चों की तुलना में सप्ताह में एक बार मछली खाने वाले बच्चे अच्छी नींद लेते हैं और उनका आईक्यू औसत की तुलना में चार अंक ज्यादा होता है। जिन बच्चों के भोजन में मछली कभी-कभी शामिल होती है उनमें य... Read more
Logo
धूम्रपान के कारण होने वाले फेफड़ों के नुकसान को लेकर चिंतित हैं? तो फिर धूम्रपान करना छोड़कर रोजाना दो से ज्यादा टमाटर या ताजे फल का सेवन करें, खासतौर से सेबों का। इससे फेफड़ों को हुए नुकसान की भरपाई हो जाती है। एक शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि जो लोग धूम्रपान छोड़ देते हैं और टमाटर और फलों का ज्यादा सेवन करते हैं, उनमें 10 साल की अवधि में फेफड़ों की कार्यप्रणाली में गिरावट कम होत... Read more
Logo
हमारे शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा हमारा स्नायु तंत्र या स्नायु संस्थान है। इसका काम शरीर से जुडी हुई सभी संवेदनाओं को मस्तिष्क तक पहुंचाना होता है। जिस वक्त हमारा स्नायु संस्थान काम करना बंद कर देता है या उसमें कोई दोष आता है तो लकवा आदि बीमारियों से व्यक्ति ग्रसित हो जाता है।आयुर्वेदिक ग्रंथों में अदरक को सबसे महत्वपूर्ण बूटियों में से एक माना गया है। यहां तक कि उसे अपने आप मे... Read more
Logo
करी पत्ता या मीठा नीम सब्जी, दाल, रायता आदि में खुशबू और स्वाद के लिए तडके में डाला जाता है। इसकी चटनी भी बनाई जाती है कढी पत्ता सिर्फ खुशबू और स्वाद ही नहीं देता बल्कि स्वास्थय और सौंदय के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। इसकी जाता पत्तियां में एक अलग ही खुशबू होती है यह खुशबू फ्रिज में या बाहर रखने पर नहीं मिल पाती इसलिए ताजा तोडी हुई पत्ती ही उपयोग में लेनी चाहिए। करी पत्ता में विटामिन ... Read more
Logo
घर में आम तौर पर ऐसी कई सारी चीजें होती हैं जिन्हें हम रोजना मसालों के रूप में उपयोग करते हैं, इलायची को जडी बूटियों और औषधियों में सबसे श्रेष्ठ माना गया है, उसी तरह इलायची को मसालों में सर्वोपरि माना जाता है। इलायची सुंगधित होने के कारण इसका इस्तेमाल मुख शुद्धि के रूप में किया जाता है। त्यौहारों पर मीठा बनाने के लिए मसालों तथा औषधियों में भी इसका अधिक उपयोग होता है। तो आइए, जानते है... Read more
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> स्वस्थ रहने के लिए साइकिल चलाना बेहतरीन जरिया है। यह आपके वजन को नियंत्रण रखने के अलावा अवसाद, तनाव व चिंता को भी कम करता है। अक्टिवहेल्थ क्लीनिक में फिजियोथेरेपिस्ट दीपाली बडोनी व डॉ. मोहन डायबिटिज स्पेशियलिटी सेंटर के प्रबंध निदेशक आर.एम. अंजना ने साइकिल चलाने के फायदों के बारे में बात की। - साइकिलिंग एक एरोबिक व्यायाम है, जिसके कई फायदे हैं। इससे दिल ... Read more
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> चाय सर्दी के मौसम में आपके दिन को ज्यादा सक्रिय बनाती है। 3000 से अधिक किस्मों के साथ एक कप चाय दुनिया भर में पानी के बाद सबसे अधिक पिया जाने वाला पेय है। भारतीय चाय के प्रति अपने लगाव के लिए जाने जाते हैं, और सर्दियों में यह कई लोगों के लिए एक आदत बन जाती है।  चाय के कई लाभ हैं। ‘हेल्थियंस’ की वरिष्ठ पोषण विशेषज्ञ व स्वास्थ्य सलाहकार डॉक्टर सौम्या सताक्ष... Read more
Logo
भारतीय रसोई में प्रयोग की जाने वाली एक खूशबुदार ताजी हरी पत्ती है जो कि शानदार सुगंधित जडी बूटी में से एक है। जहां यह व्यंजनों में स्वाद व खुशबू बढने का काम करता है। वहीं धनियां से हेल्थ और ब्यूटी के कई सारे लाभ होते हैं। धनियें में विटामिन सी, विटामिन के और प्रोटीन का भी अच्छा सोर्स होता है। इसमें बहुत कम मात्रा में कैल्शियम, पोटैशियम, कैरोटीन और फॉस्फोरस पाया जाता है।  त्वचा पर म... Read more
Logo
न्यूयॉर्क (एजेंसी) >>>>>> अगर आपके किशोर बेटे/बेटी देर रात तक जगे होते हैं, तो उनमें नींद सबंधी दिक्कत हो सकती है, जिससे मनोदशा संबंधी विकार और खास तौर से अवसाद का जोखिम बढ़ सकता है। शोधकर्ताओं ने यह चेतावनी दी है।  अमेरिका की पीट्सबर्ग विश्वविद्यालय के पीटर फ्रेंनजेन की अगुवाई में किए गए इस शोध में कहा गया है कि नींद से वंचित किशोर में जोखिम लेने के व्यवहार के पैदा होने तथा नशे ... Read more
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> सर्दियों में घर में गर्माहट बनाए रखने के लिए चमकीले, चटख रंग के कुशन इस्तेमाल में लाए जा सकते हैं या मोमबत्तियां जलाई जा सकती हैं। इससे आपको भी गर्माहट व सुकून का अहसास होगा।  ‘एटलस इंटीरियो’ की प्रिंसिपल डिजाइनर अदिति साहनी और ‘इनलिविंग’ के निदेशक आशीष गुप्ता ने इस सर्दियों में घर में गर्माहट बनाए रखने के संबंध में ये सुझाव दिए हैं :  * चमकीले औ... Read more
Logo
केसर का प्रयोग बिरयानी, खीर, मिठाई और केसर का दूध सौंदर्य उत्पादों में फ्लेवर डालने के लिए किया जाता है। यह आमतौर पर स्वास्थ्य के पूरक पदार्था में हाजमें को दरूस्त करने के लिए किया जाता है। केसर का सेवन करने से महिलाओं को मासिक धर्मका समस्याओं से मुक्ति मिलती है। केसर एक सुगंध देने वाला पौधा है। पतली बाली सरीखा केसर 15-25 सेंटीमीटर ऊंचा होता है। पत्तियां संकरी, लंबी और नालीदार होती है... Read more
Logo
तुलसी श्वास की बीमारी, मुंह के रोगों, बुखार, दमा, फेफड़ों की बीमारी, हृदय रोग तथा तनाव से छुटकारा दिलाती है। इसके साथ ही प्रजनन संबंधी रोग में भी यह काफी गुणकारी है। यह नपुंसकता, स्तंभन एवं प्रसवोत्तर शूल में यह काफी लाभकारी है।  पंतजलि आयुर्वेदके आचार्य बालकृष्ण के अनुसार, तुलसी कई रोगों में रामबाण औषधि की तरह काम करती है। उन्होंने कहा कि प्रजनन, त्वचा, ज्वर और विष चिकित्सा में तु... Read more
Logo
विंटर में बॉडी को प्राकृतिक रूप से पौष्टिक तत्व भरपूर मात्रा में मिलते हैं। यही वह वक्त भी है, जब बॉडी की एनजी में बढोतरी होती है और हैल्दी रहने के लिए अतिरिक्त प्रयास नहीं करना पडता। विंटर में जितने विटमिंस और पौष्टिक तत्व शरीर को मिलते हैं, वे साल भर बॉडी को हैल्दी बनाए रखते हैं। इसलिए भरपूर एनर्जी के लिए चाहिए खूब पोषण। शामिल करें ये कुछ चीजें अपनी डाइट में शामिल करें। अंडें- सुब... Read more
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> सर्दियों के दौरान मौसम में अचानक बदलाव होने से सर्दी, जुकाम से परेशान और त्वचा पर चकत्ते से पीडि़त रोगियों की संख्या बढ़ जाती है। साथ ही मौसम में एलर्जी के मामले भी अधिक देखने को मिलते हैं। कुछ लोगों को सांस लेने की समस्या और शरीर में खुजली की समस्या का भी सामना करना पड़ता है।  इंडस हेल्थ प्लस में प्रिवेन्टिव हेल्थकेयर स्पेशलिस्ट सुश्री कंचन नायकवाड़... Read more
Logo
आखिर खूबसूरती है क्या ! कुदरत की देन या आंखों की कल्पना। शायद दोनों का अपना-अपना नजरिया है, पर यह नजरिया तब और निखर जाएगा जब आप थोडी सूझबूझ से इसकी देखभाल करेंगी। सबसे पहले जानिए कि त्वचा कैसी है। मतलब अगर आपकी त्वचा शुष्क है, खिंची-खिंची निस्तेज और बेजान नजर आती है तो अपने चेहरे को क्रीमयुक्त क्लींजर से साफ करें। सर्दियों में मसाज बहुत जरूरी होती है, क्योंकि इस मौसम में त्वचा रूखी हो... Read more
Logo
घर में आम तौर पर ऐसी कई सारी चीजें होती हैं जिन्हें हम रोजना मसालों के रूप में उपयोग करते हैं, इलायची को जडी बूटियों और औषधियों में सबसे श्रेष्ठ माना गया है, उसी तरह इलायची को मसालों में सर्वोपरि माना जाता है। इलायची सुंगधित होने के कारण इसका इस्तेमाल मुख शुद्धि के रूप में किया जाता है। त्यौहारों पर मीठा बनाने के लिए मसालों तथा औषधियों में भी इसका अधिक उपयोग होता है। तो आइए, जानते है... Read more
Logo
अपनी त्वचा को हमेशा जवां बनाए रखने के लिए आप प्राकृति के अनमोल खजाने के रूप में मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह प्राकृतिक फेसपैक है। मुल्तानी मिट्टी को खूबसूरती का खजाना कहा जाता है। इसके प्रयोग से त्वचा खिलने के साथ-साथ दमकती भी है। मुल्तानी मिट्टी एक प्रकार की प्राकृतिक मिट्टी होती है। जिसमें कई गुणकारी तत्व पाये जाते हैं। इसमें पाया जाने वाला आयरन, मैग्नीशियम, कैल... Read more
Logo
अजवायन में सेहत का राज छिपा है। दादी मां के नुस्खे बिना अजवायन के पूरे नहीं होते। बडे काम की ये छोटी सी चीजें सेहत का बखूबी ध्यान रखती हैं। जिसे तरह इनकी थोडी सी मात्रा अच्छी सेहत के लिए काफी है उसी प्रकार छोटी-छोटी समस्याओं पर समय रहते ध्यान दिया जाएतो वे बडी नहीं होती है। ठंड के सीजन में सर्द से बचने के लिए अजवायन एक सफल औषधि है।  पेट की गैस में दे आराम-: अजवायन के साथ काला नमक, सौंठ त... Read more
Logo
बंदगोभी को पत्तागोभी भी कहा जाता है। यह एक बहुत ही फायदेमंद सब्जी है, क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन, सल्फर, आयरन, पोटेशियम आदि पौषक तत्व पाये जाते हैं। बंदगोभी को हम कईरूपों में प्रयोग करते, सब्जी, परांठे, सलाद, अचार आदि यह खाने में बहुत ही टेस्टी होने साथ-साथ हमारे सेहत के लिए भी लाभकारी है, तो आइये जानते हैं पत्तागोभी से होने वाले लाभ के बारे में... बंदगोभी का मास्क-: चार चम्मच... Read more



   ASTROLOGY   
Pic
 किसी भी अशुभ तिथि पर सुबह जल्दी उठें और स्नान आद... Read more