astrology
Logo
हिन्दू धार्मिक के अनुसार प्रयोग किये जाने वाली वस्तु जैसे चावल, रोली, आम के पत्ते, तिल, इत्र, नारियल आदि हर एक वस्तु का अपना महत्व है। कोई भी व्यक्ति जब अपना नया व्यवसाय शुभारंभ करते है तो वह मूर्ति के सामने नारियल फोडते। चाहे शादी हो, त्योहार हो या फिर कोई महत्वपूर्ण पूजा, पूजा की सामग्री में नारियल आवश्यक रूप से रहता है। भारतीय सभ्यता में, पूजा-पाठ में नारियल को शुभ और मंगलकारी माना गया है। संस्कृत में नारियल को ‘श्रीफल’ कहते है जिसमे ‘श्री’ का अर्थ लक्ष्मी। हिन्दू धर्म की पौराणिक परम्परा... Read more...
Logo
भगवान की पूजा-आराधना करते समय अक्सर हम लोग पूजा की थाली में कपूर और दीपक जलाते हैं। इस दौरान दीपक अथवा थाली को किस प्रकार पकड़ना चाहिए या कितने दीपक जलाने से कौनसे देव प्रसन्न होते हैं, इन सभी का वर्णन पुराणों में मिलता है। दीपकों के रहस्यों से परदा हटाता यह विशेष आलेख-  केले के पेड़ के नीचे बृहस्पतिवार को घी का दीपक प्रज्ज्वलित करने से कन्या का विवाह शीघ्र हो जाता है ऐसी भी मान्यता है। इस प्रकार बड़, गूलर, इमली, कीकर आंवला और अनेकानेक पौधों व वृक्षों के नीचे भिन्न-भिन्न प्रयोजनों से भिन्न-भिन्न ... Read more...
Logo
कहते है कि इंसान के हाथ की लकीरे देखकर उसके भविष्य के बारे में जान सकते है। हाथ की रेखाओं को देखकर व्यक्ति के व्यक्तित्व और उसके भूत-भविष्य के बारे में बहुत कुछ जाना जा सकता है।  हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, इसे देखकर कई बातें जानी जा सकती हैं। आज हम आपको हाथों की रेखा के अनुसार कुछ जानकारी बताने जा रहे है जिससे आप जान सकते है कि व्यक्ति का व्यवहार कैसा है, आइए जानते है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इंसान की छोटी अंगुली को देखकर भी उसके बारे में जान सकते है। आपको इस बात पर यकीन ना हो लेकिन लंबाई-चोड़ा... Read more...
Logo
लक्ष्मी की मेहरबानी किस पर रहेगी यह तो जातक के आज कर्म और प्रारब्ध (पुराने जन्म के कर्म) के अनुसार तय होती है लेकिन वास्तु के अनुसार यदि कुछ व्यवसाय वाले जातक कुछ खास चीजों को अपने बेडरूम में रखें तो उस जातक को कभी धन या पैसों की कभी कमी नहीं रहती- सबसे पहले बात करते हैं ले‍खक, पत्रकार और मीडिया से जुडे लोगों के बारे में। इन जातकों को अपने बैडरूम में एक ग्लोल या चार रंगों के पैन का जोडा जरूर रखना चाहिए। होटल अथवा खाने-पीने का उद्यम करने वाले अपने बैडरूम में सिक्कों से भरा कटोरा रखें। सर्विस करने वाल... Read more...
Logo
हर इंसान अपने जीवन में सुख की चाहत जरूर रखता है। सुख की चाहत के लिए वो खूब मेहनत करता है। लेकिन बहुत बार ऐसा होता है कि आपकी मेहनत के बावजूद भी परिणाम वो नहीं मिलते जो आपको चाहिए होते हैं या जिनकी आपको उम्मीद होती है।  अगर आप अमीर बनना चाहते हैं आज हम कुछ टोटके बताने जा रहे है जिससे आप अमीर बन सकते है और अपने सारे कष्टों से मुक्ति पा सकते हैं। जी हां, अगर आप हमेशा पैसों की परेशानी देखते हैं और आपके पास पैसों की कमी रहती है तो आप इस टोटके को करने के बाद आप अमीर बन सकते हैं और आपके पास पैसा ही पैसा आ सकता ह... Read more...
Logo
हर सपने का विशेष महत्व होता हैं और सपने में दिखाई देने वाली चीजों का हमारे जीवन से गहरा संबंध होता हैं। सपने भी कई प्रकार के होते हैं जो व्यक्ति की जिंदगी से जुड़े होते हैं।  आ हम सपने में शिवजी से जुड़ी चीजें दिखाई देने का तात्पर्य बताने जा रहे हैं। सपने में शिवजी से जुड़ी चीजें दिखना कैसे आपके जीवन पर प्रभाव डालता हैं, आइये जानते है। सपने में शिवलिंग का दिखना... शिवलिंग का दिखाई देना सभी अशुभों का नाश करने वाला है। लंबें समय से परेशानियां चल रही हैं और आपको शिवलिंग दिखे तो समझ ले कि अच्छा समय शुरू ह... Read more...
Logo
भारत रीति और परंपराओं से परिपूर्ण देश है। यहां भगवान, पूजा-पाठ, धर्म जाति समाज आदि के नाम पर कई तरह के नियम व कानून बनाए गए है। भारत में बने हर नियम का अपना एक धार्मिक महत्व है, तो वहीं दूसरी ओर इन नियमों का कोई ना कोई वैज्ञानिक कारण भी जरूर होता हैं।  हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे का बहुत महत्व है। हिंदू धर्म में ऐसा कहा गया है कि रविवार को तुलसी का पौधा ना छुने का धार्मिक कारण है। लेकिन इसके पीछे क्या कारण है, आइए जानते है। तुलसी के पत्ते को ना तोडने की परंपरा... हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा महत्वपूर्... Read more...
Logo
सनातन धर्म में गाय को माता के समान सम्मानजनक स्थान प्राप्त है। हिंदू धर्म में गाय हमेशा कल्याणकारिणी तथा पुरुषार्थ-चतुष्टय की सिद्धि प्रदान करने वाली है। हमारे लिए गौमाता कितनी लाभदायक है आइए जानें जरा- जन्म पत्री में यदि शुक्र अपनी नीच राशि कन्या पर हो, शुक्र की दशा चल रही हो या शुक्र अशुभ भाव (6,8,12) में स्थित हो तो अपने प्रात: काल के भोजन में से एक रोटी सफेद रंग की गाय को 43 दिन तक लगातार खिलाने से शुक्र का नीचत्व और शुक्र सम्बंधित कुदोष स्वत: ही समाप्त हो जाते हैं। हमेशा भी देना शुभ है। सूर्य, चंद्र, ... Read more...
Logo
घर में किचन का अहम हिस्सा होता है। किचन पूरे घर की सुख-समृद्धि और सेहत से जुड़ा रहने वाला स्थान माना जाता है। वास्तु के अनुसार घर में किचन का निर्माण करते समय कई बातें बेहद अहम और खास हो जाती हैं और उन पर अमल किया जाना भी जरूरी होता है।  वास्तु में भी किचन के स्थान, दिशा और वहां पर मौजूद रहने वाली हर एक चीज के बारे में विस्तार से बताया गया है। किचन में वास्तुदोष होने से घर पर हमेशा अशुभ छाया बनी रहती है। आइए जानते हैं वास्तुशास्त्र के अनुसार घर के किचन में किन-किन नियमों का पालन करना चाहिए। कभी भी कि... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> हिंदू धर्म में स्त्रियों को लक्ष्मी का रूप माना जाता है। अक्सर ये कहा भी जाता है कि एक स्त्री होती है जो किसी भी घर को स्वर्ग बना सकती है और स्त्री चाहे तो किसी भी घर को बिगाड़ सकती है। अगर पत्नी सौभाग्यशाली होती है तो पति का जीवन बहुत ही सरल और खुशहाल बन जाता है।  वहीं दूसरी तरफ अगर पत्नी अच्छे गुणों वाली या अच्छी आदतों वाली नहीं होती तो घर के साथ-साथ पति का जीना भी बहुत मुश्किल हो जाता है।  आज हम ऐसी कुछ आदतों के बारे में बताने जा रहे है जो अगर यह आदतें किसी स्त्री मे... Read more...
Logo
अक्सर देखा जाता है कि शादी से पहले लोग लडका और लडके के परिजन कुंडली का मिलान जरूर करते है। दरअसल ऐसा करने के पीछे कुंडली में दोष को दूर करना होता है।  अगर किसी लडके या लडकी की कुंडली में कोई दोष है तो ज्योतिष के उपाय से उन्हें दूर किया जाता है फिर शादी की जाती है।  लेकिन बहुत बार ऐसा होता है कि अगर किसी ने विवाह से पूर्व कुंडली मिलान नहीं किया है और विवाह के बाद मालूम पड़े कि आपका जीवनसाथी मांगलिक है या उसकी कुंडली में मंगल दोष है तो कुछ खास उपाय कर के आप अपने वैवाहिक जीवन को इस दोष से मुक्ति दिला स... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> हिंदू धर्म में ज्योतिष शास्त्र का बहुत महत्व है। बहुत बार ऐसा होता है कि जाने अनजाने में हम लोग हमारे घर की रसोई में कुछ ऐसे काम कर देते हैं जो हमें गरीबी की ओर ले जाते हैं।  ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, आपकी कुछ आदतें आपको आर्थिक तंगी जैसी परेशानी दे सकती हैं। इसलिए अपनी रसोई में यह काम भूलकर भी मत कीजिए।  आज हम आपको कुछ ऐसे कारण बताने जा रहे है जिनके करने से आप गरीबी की और ले जाते है। वो कौन-कौनसे कारण है आइए जानते है।  रात को झूठे बर्तन... हम में से कई लोग ऐसे हैं जो ... Read more...
Logo
जीवन में कई बार काफी कुछ करने के बाद भी मनचाही सफलता नहीं मिलती। ऐसे में कुछ खास उपायों की मदद लेकर अपनी तकदीर को चमकाया जा सकता है।  कभी भी अपने मुख्य द्वार के पास कभी भी कूड़ादान ना रखें, इससे आपके पड़ोसी भी आपके शत्रु होने लगेंगे और आपका नुकसान करेंगे।  ध्यान रखें कि सूर्यास्त के समय किसी को भी दूध, दही या प्याज मांगने पर ना दें इससे घर की बरकत समाप्त हो जाती है और दरिद्रता का वास होता है।  शास्त्रों के अनुसार घर की छत पर कभी भी अनाज या बिस्तर ना धोएं। इनको सुखा जरूर सकते हैं। कहते हैं कि ऐसा क... Read more...
Logo
दुनिया में कुछ चीजें ऐसी भी हैं, जिनको अपनाने से आपकी जिदंगी की दशा और दिशा दोनों बदल सकती है। ऐसी ही एक है काली हल्दी। तंत्र शास्त्र में इसे अचूक हथियार माना गया है। कहते हैं कि काली हल्दीी के टोटकों का असर कभी खाली नहीं जाता। काली हल्दी बड़े काम की है। वैसे तो काली हल्दी का मिल पाना थोड़ा मुश्किल है, किन्तु फिर भी यह पंसारी की दुकानों में मिल जाती है। यह हल्दी काफी उपयोगी और लाभकारक है। कुछ खास उपयोग हैं इसके-  यदि किसी के पास धन आता तो बहुत किन्तु टिकता नहीं है, उन्हे यह उपाय अवश्य करना चाहिए। शु... Read more...
Logo
व्यक्ति के जीवन में रंगों का बहुत महत्व होता है, रंग ही जीवन में खुशहाली लाते हैं। ज्योतिष में प्रत्येक रंग का अपना महत्व है, हम आपको यहां एक खास रंग के बारे में बता रहे हैं, जो तिजोरी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है।  अगर ये रंग तिजोरी के आस-पास हो तो व्यक्ति को आर्थिक परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है। तिजोरी के आस-पास कौनसे रंग होने चाहिए, आइए इसके बारे में आपको बताते हैं। नीला रंग... जहां तिजोरी रखी है वहां नीले रंग का प्रयोग नहीं करना चाहिए। नीला रंग तिजोरी के आस-पास होने से वहां वास... Read more...
Logo
वास्तु क्या है, क्यों है, लोग क्यों इसे इतना महत्व देते है, ये बाते तो आप सभी जानते होंगे। लेकिन आज हम आपको वास्तु शास्त्र से जुड़े उन तथ्यों के बारे में बताने जा रहे है, जिन्हे जानकर आप चौंक जाएंगे। ये जानकर आप चौंक जाएंगे कि आधी से ज्यादा जनता इन गलतियों को रोजाना दोहराती है, जिससे उनके घर में आए दिन दिक्कतें आती रहती है। सूर्यास्त के बाद कभी भी दूध, दही और प्याज नहीं देना चाहिए, ऐसा करने से आपका भाग्य रूठ जाता है , फिर चाहे वो बाहर का कुत्ता ही क्यों न हो। आम तौर पर लोग ख़ुशी के मौके पर मिठाइयां बांटते ह... Read more...
Logo
गुरु नानक देव सिख धर्म के संस्थापक थे। उन्होंने समाज फैल रहे अंधविश्वास और असमानता को दूर करने के लिए सिख धर्म की नींव रखी थी। उनका कहना था कि जो धर्म व्यक्ति को सीख प्रदान करें वह धर्म सर्वोपरि है। जो धर्म असमानता का जहर घोले वह धर्म नहीं आडम्बर है। उनका मुख्य संदेश कुरीतियों, असमानता और ईश्वर में विश्वास करने का दिया था। उनका जन्म रावी नदी के तट पर बसे एक गांव तलवंडी (अब पाकिस्तान) में कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था।  वे बचपन से ही धार्मिक प्रवृति के बताए जाते थे। सिख धर्म में गुरु नानक के जन्म... Read more...
Logo
अपने वर्तमान जीवन को सुखी और अच्छा भविष्य बनाने के लिए हर इंसान जी जान से मेहनत करता है। लेकिन बहुत कम लोगों को ही अपनी कडी मेहनत का फल मिलता है। इस दुनिया में कई लोग ऐसे भी है अधिक मेहनत करते है लेकिन उनको सफलता नहीं मिलती। क्या आपने कभी सोचा है कि अपनी कडी मेहनता का फल क्यों नहीं मिला। ये सब घर से संबंधित वास्तु की गलतियों के कारण हो सकता है। जिन पर हम ध्यान नहीं देते और परेशानियों का सामना करते रहते हैं इसलिए इन सभी चिंताओं से मुक्ति हेतु वास्तु के कुछ उपायों पर अमल करना चाहिए। 1. घर में सदैव खाना ... Read more...
Logo
प्रेम हर रिश्ते की जरूरत है। फेंगशुई के अगर कुछ खास तरीकों को अपनाया जाए तो न केवल हमारे रिश्तों में प्रगाढता आएगी बल्कि वे उर्जावान भी बने रहेंगे। फेंगशुई के अनुसार यदि आप विवाहित हैं तो ध्यान रखिए, टी.वी या कंप्यूटर आपसी संवाद की प्रक्रिया में बाधक हो सकते हैं जो कि रिश्तों को संभालने के लिए बहुत जरुरी है। इसलिए बेहतर होगा यदि आप टी.वी कंप्यूटर आदि को अपने शयनकक्ष से बाहर रखें।  बैडरुम में किसी भी तरह का विभाजन चाहे वह छत को दो हिस्सों में दिखाती बीम हो या फिर आपके बिस्तर को दो हिस्सों में करत... Read more...
Logo
हिंदू धर्म में लोग शास्त्रों पर कुछ ज्यादा ही यकीन करते है। हाल ही में हमने कुछ शुभ और अशुभ संकेतों के बारे में बताया था।  वहीं आज हम एक बार फिर आपके लिए शास्त्रों के अन्दर वर्णित चुनिन्दा ऐसे संकेत लेकर आए हैं, जो अगर आपको दिखें तो समझ लेना आपकी जिदंगी खुशहाल होने वाली है।  अगर आपके साथ ये घटनाएं होती है तो समझ लेना की आपकी किस्मत की कायापलट होने वाली है। आइए जानते है आखिर कौन-कौन सी घटनाएं होना शुभ होता है। गन्ना... सुबह घर से अपने काम पर जाते वक्त या मॉर्निंग वॉक करते समय गन्ने का दिखाई दे जाना ... Read more...
Logo
धर्म शास्त्रों में भगवान सूर्य की पूजा-अर्चना का विशेष महत्व है। सूर्य उपासना से न केवल सुख-समृद्धि आती है, बल्कि यश भी बढ़ता है। महिलाओं को रविवार और सोमवार को सूर्योपासना से घर में समृद्धि व गर्भवती महिलाओं को गुणी पुत्र की प्राप्ति होती है। बह्मवैवर्त पुराण के अनुसार इन दिनों में खेजड़ी के पेड़ के नीचे प्रात: काल सूर्योपासना करते हुए इस मंत्र का 51 बार जाप करने से लाभ मिलता है- नम: उग्राय वीराय सारंगाय नमो नम:। नम: पद्मप्रबोधाय प्रचंडाय नमोऽस्तु ते ।। ओम आदित्याय नम: । आत्मबल, बुद्धि, इन्द्रिय... Read more...
Logo
जीवन में हर इंसान पैसा कमाने के लिए जी तोड़ मेहनत करता है, फिर भी अक्सर ज्यादा मेहनत और इन्तजार के बावजूद सफलता नहीं मिलती हैं। इसके लिए अपने आपको जिम्मेदार ठहराना सही नहीं हैं। हो सकता है आपके घर में कुछ ऐसी चीजें हों जिनकी वजह से घर की बरकत नहीं हो रही हो। ऐसी चीजें तरक्की में रोडा बनती हैं।  आज हम आपको कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जिससे न सिर्फ आपकी तरक्की के सारे रास्ते खुलेंगे बल्कि आपके पास पैसा भी रहेगा आइए जानते है।  आमतौर पर लौंग का प्रयोग सेहत और स्वाद के लिए किया जाता है वहीं बात करें पूज... Read more...
Logo
हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार, किसी भी शुभ काम के करने से पहले गणेश पूजन आवश्यक हैं। इससे प्रसन्न होकर गणेश जी सारे काम निर्विध्न कर देते हैं। हिन्दू संस्कृति और पूजा में भगवान श्रीगणेश जी को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है। प्रत्येक शुभ कार्य में सबसे पहले भगवान गणेश की ही पूजा की जाती अनिवार्य बताई गयी है। देवता भी अपने कार्यों की बिना किसी विघ्न से पूरा करने के लिए गणेश जी की अर्चना सबसे पहले करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि श्री गणेश जी की पूजा में दूर्वा का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती है ... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> छठ पर्व, छठ या षष्ठी पूजा कार्तिक शुक्ल पक्ष के षष्ठी को मनाया जाने वाला एक हिन्दू पर्व है। आस्था पर्व छठ पूजा की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। दूर-दराज रहने वाले भोजपुरी लोग भी इस मौके पर अपने घर पहुंचने तैयारी पूरी कर चुके हैं। वैसे तो साल में दो बार छठ का महोत्सव पूर्ण श्रद्धा और आस्था से मनाया जाता है। ऐसे में पहला छठ पर्व चैत्र माह में तो दूसरा कार्तिक माह में मनाया जाता है और चैत्र शुक्ल पक्ष की षष्ठी चैती छठ और कार्तिक शुक्ल पक्ष की षष्ठी को कार्तिकी छठ कहा जाता ह... Read more...
Logo
देवताओं की आराधना के लिए कार्तिक मास को धार्मिक ग्रन्थों में अत्यन्त महत्वपूर्ण माना गया है। इस मास में श्रद्धालुओं के लिए पांच आचरणों का पालन करने पर जोर दिया जाता है। यह पांच आचरण हैं- दीप दान, पवित्र नदी में स्नान, तुलसी का पूजन, भूमि पर शयन, पवित्र आचरण बनाए रखना और दालों के सेवन से परहेज। कार्तिक मास में इन सभी आचरणों का नियम पूर्वक पालन करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होकर अपना शुभाशीष प्रदान करते हैं जिससे जीवन में आरोग्य, धन-सम्पदा, स्नेह, प्रेम, खुशहाली और अन्य लाभों की प्राप्ति होती है। कार... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> पांच दिन के त्योहार के चौथे यानि दिवाली के अगले दिन गोवर्धन पूजा की जाती है. देशभर में आज (8 नवंबर) गोवर्धन का त्योहार मनाया जा रहा है. इस दिन भगवान कृष्‍ण, गोवर्धन पर्वत और गायों की पूजा का विधान है. इस त्योहार पर गोबर से घर के आंगन में गोवर्धन पर्वत का चित्र बनाकर पूजन किया जाता है. मान्‍यता है कि इसी दिन भगवान कृष्‍ण ने देव राज इन्‍द्र के घमंड को चूर-चूर कर गोवर्धन पर्वत की पूजा की थी. गोवर्धन पूजा का श्रेष्ठ समय प्रदोष काल में माना गया है. इस दिन 56 तरह के पकवान बनाकर श... Read more...
Logo
दिवाली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा का विशेष आयोजन होता है। गोवर्धन पूजा को लोग अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं। इस पर्व की अपनी मान्यता और लोककथा है। इस त्योहार का भारतीय लोकजीवन में काफी महत्व है। इस पर्व में प्रकृति के साथ मानव का सीधा संबंध दिखाई देता है। भगवान श्रीकृष्ण ने इसी दिन इंद्र का मानमर्दन कर गिरिराज पूजन किया था। इस दिन मंदिरों में अन्नकूट किया जाता है। अन्नकूट एक प्रकार से सामूहिक भोज का आयोजन है, जिसमें पूरा परिवार एक जगह बनाई गई रसोई से भोजन करता है। इस दिन चावल, बाजरा, कढ़ी, साबुत म... Read more...
Logo
पूरे देश में त्योहार दीवावली का आगाज हो चुका है। दिवाली को लेकर सभी घरों में तैयारियां लगभग पूरी हो गई है। दिवाली का त्योहार देश और दुनिया में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस बार दिवाली 7 नवंबर 2018 को मनाई जाएगी। दीपावली के शुभ पर्व पर सभी घरों में दिए और दीपक जलाए जाएंगे।  हर घर में पर्व के पांच दिनों तक घर को दीयों से सजाया जाएगा। दीपावली के दिन मां लक्ष्मी और गणेश जी की विशेष पूजा की जाती है। कहते हैं यह पूजा हर घर में बड़े ही विधि और विधान से की जाती है और साथ ही ऐसा कहा जाता है कि दिवाली पर देवी लक्... Read more...
Logo
रोशनी का त्योहार दीवावली का आगाज हो चुका है। दिवाली नजदीक आ गई है और सभी घरों में तैयारियां जोरो पर हैं। दीपावली के शुभ पर्व पर सभी घरों में दिए और दीपक जलाए जाएंगे। हर घर में पर्व के पांच दिनों तक घर को दीयों से सजाया जाएगा। इस बार दिवाली 7 नंबवबर को है और आप सभी जानते ही हैं कि दीपावली के दिन मां लक्ष्मी और गणेश जी की विशेष पूजा की जाती है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं दिवाली के दिन देवी लक्ष्मी की साल की सबसे बड़ी पूजा होती है।  कहते हैं यह पूजा हर घर में बड़े ही विधि और विधान से की जाती है और ... Read more...
Logo
नरक चतुर्दशी जिसे लोग रूप चौदस भी कहते हैं। कार्तिक मास के कृृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरक चतुर्दशी, यम चतुर्दशी या फिर रूप चतुर्दशी कहते हैं। इस दिन महिलाएं अपना श्रृंगार कर, अपने रूप को निखारती हैं। इसके अलावा इस दिन यमराज को ​खुश करने के लिए यमराज की पूजा करते हैं और व्रत करने का विधान भी है।  स्वच्छता और सुंदरता से आती है मां लक्ष्मी शास्त्रों के अनुसार देवी मां लक्ष्मी उसी घर में आती हैं, जहां स्वच्छता, सुंदरता और पवित्रता हो। नरक चतुर्दशी यानी छोटी दिवाली के दिन घर की सफाई जरूर करनी चाहिए। ... Read more...
Logo
दिवाली को लेकर भारत के हर कोने में तैयारियां शुरु हो गई है। रोशनी का त्योहार दिवाली का आगाज हो चुका है। दिवाली का त्यौहार सभी के लिए खास होता हैं और इस दिन टोन टोटके का भी महत्व होता हैं। ऐसे में यह दिन दीपों और रोशनी का त्यौहार माना जाता हैं। इस बार दिवाली 7 नंबवबर को है और आप सभी जानते ही हैं कि दीपावली के दिन मां लक्ष्मी और गणेश जी की विशेष पूजा की जाती है।  ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं मां लक्ष्मी को खुश करने के लिए कुछ उपायों के बारे में जिसे आपको दिवाली के दो दिन पहले करना हैं। शास्त्रो क... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> आज धनतेरस है. हमारे देश में सर्वाधिक धूमधाम से मनाए जाने वाले त्योहार दिवाली की शुरुआत धनतेरस से हो जाती है. धनतेरस छोटी दिवाली से एक दिन पहले मनाया जाता है. इस दिन कोई भी समान लेना बहुत ही शुभ माना जाता है. धनतेरस पूजा को धनत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है. आज सोने-चांदी की खरीदारी शुभ मानी जाती है. बर्तन भी खरीदना शुभ माना जाता है. जानें इन सबके पीछे का धार्मिक महत्व क्या है.  दरअसल, धनतेरस का दिन धन्वंतरि त्रयोदशी या धन्वंतरि जयंती भी कहलाता है. धन्वंतरि आयुर्वेद क... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> धनतेरस दिवाली के ठीक दो दिन पहले मनाया जाता है। इस मौके पर भगवान की कृपा पाने के लिए लोग मेटल या आभूषण आदि की खरीदारी करते हैं। इस दिन रत्न (जेमस्टोन) खरीदना भी शुभ माना जाता है।  ‘खन्ना जेम्स प्राइवेट लिमिटेड’ के संस्थापक व प्रबंध निदेशक पंकज खन्ना और ‘रूप ज्वेलर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड’ के प्रबंध निदेशक नितिन गुप्ता ने धनतेरस के दौरान रत्नों को खरीदने के ये फायदे बताए हैं :  * नीलम : माना जाता है कि इस रत्न को पहनने से परिवार और समाज में प्रतिष्ठा बढ़ती ... Read more...
Logo
धनी या निर्धन होना सब भाग्य पर निर्भर करता लेकिन कुछ खास तरीकों को अपनाकर भी धनी योग बन सकते हैं। ऐसे योगों को बुलाता है सिद्धिदायक शाबर मंत्र। सिद्धिदायक शाबर मंत्रों की रचना गुरु गोरखनाथ आदि योगियों ने की थी। इन मन्त्रों में प्रत्येक देवता तथा हर प्रकार के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए मंत्र दिये गये हैं। इनमें लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र भी सम्मिलित हैं।  आधुनिक परिवेश में इन मंत्रों को सिद्ध करना सरल है तथा इसमें विपरीत प्रभाव होने की सम्भावनाएं भी कम रहती हैं परन्तु इस प्रकार के लक्ष्मी प्र... Read more...
Logo
दीवाली का हर किसी को बेसब्री से इंतजार रहता है, लेकिन आपको ये जानकर खुशी होगी की इस दिवाली पर कुछ राशियों की किस्मत चमकाने वाली हैं। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, ब्रह्मांड में ग्रह अपनी दिशा और चाल बदलते रहते हैं। जिसका प्रभाव विभिन्न राशियों पर भी पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, शुक्र ग्रह ने 5 अक्टूबर को अपनी चाल में परिवर्तन किया है। शुक्र ग्रह पीछे की ओर परिक्रमा करने लगा है, यानि वक्री हो गया है। गौरतलब है कि ग्रह उल्टे चलते नहीं है, बस उल्टा चलते हुए प्रतीत ही होते हैं। शुक्र ग्रह की चा... Read more...
Logo
देशभर में 7 नवंबर को खुशियों और रौशनी का त्यौहार दीपावली मनाया जा रहा है। धन जीवन की सभी आवश्यकताओं को पूरा करने का माध्यम बना हुआ है। धन के अभाव में जीवन कष्टमय होने लगता है। कई बार अथक परिश्रम और प्रयासों के बावजूद अपेक्षित धन लाभ नहीं मिलता है जिससे मानसिक और शारीरिक कष्ट उठाने पड़ते हैं। यहां हम कुछ ऐसे सरल उपाय बता रहे हैं जिन्हें पूर्ण श्रद्धा और विश्वास के साथ अपनाने से जीवन में धन की कमी को काफी हद तक दूर किया जा सकता है। आपको बता दें कि साल 2018 में दिवाली 7 नवंबर को भारत के ज्यादातर हिस्सों में... Read more...
Logo
देवताओं की आराधना के लिए कार्तिक मास को धार्मिक ग्रन्थों में अत्यन्त महत्वपूर्ण माना गया है। इस मास में श्रद्धालुओं के लिए पांच आचरणों का पालन करने पर जोर दिया जाता है। यह पांच आचरण हैं- दीप दान, पवित्र नदी में स्नान, तुलसी का पूजन, भूमि पर शयन, पवित्र आचरण बनाए रखना और दालों के सेवन से परहेज। कार्तिक मास में इन सभी आचरणों का नियम पूर्वक पालन करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होकर अपना शुभाशीष प्रदान करते हैं जिससे जीवन में आरोग्य, धन-सम्पदा, स्नेह, प्रेम, खुशहाली और अन्य लाभों की प्राप्ति होती है। कार... Read more...
Logo
कुछ खास काम करने वाले लोगों को धन की देवी मां लक्ष्मी बिल्कुल पसंद नहीं करती और वहां कभी निवास भी नहीं करतीं। वे लोग और कौनसे हैं वे काम आइए जानें कौन से हैं।  गरुड़ पुराण के अनुसार, जो लोग बिना किसी बात या छोटी-छोटी बातों पर दूसरों पर चीखते-चिल्लाते हैं, उन्हें अपशब्द कहते हैं। ऐसे लोगों को भी देवी लक्ष्मी त्याग देती हैं। जो लोग इस प्रकार का व्यवहार अपने जान-पहचान वाले, नौकर या अपने अधीन काम करने वालों के साथ करते हैं उनका स्वभाव बहुत ही क्रूर होता है। इनके मन में किसी के प्रति प्रेम या दया नहीं हो... Read more...
Logo
धनतेरस को धन त्रयोदशी भी कहते है इस दिन भगवान् धन्वन्तरि का जन्म हुआ था। कहते है समुन्द्र मंथन के समय जब धन्वन्तरि का जन्म हुआ तब उनके हाथ में सोने का अमृत से भरा हुआ कलश था। क्योंकि वे कलश लेकर पैदा हुए थे इसीलिए इस दिन बर्तन खरीदने का रिवाज है। धनतेरस के दिन शाम को सूर्य अस्त के बाद दिया जलाएं और पास में कौड़ियां रखें, धनकुबेर और माता लक्ष्मी की पूजा करें। आधी रात के बाद 13 कौड़ियां घर के किसी कोने में गाड़ दें। इस उपाय से धन प्राप्ति के योग बनना शुरू हो जाते है, ऐसा माना जाता है। पैसे से जुडी परेशानिय... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> पति-पत्नी के प्यार का त्यौहार करवा चौथ आज मनाया जा रहा है। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र की कामना करते हुए व्रत रखती है। वहीं आजकल कुछ पुरुष भी अपनी जीवन संगिनी के साथ भूखे-प्यासे रहते हैं। दोनों रात चांद को देखकर अपना-अपना व्रत खोलकर खाना खाते हैं। इस दिन को और खास बनाने के लिए वो एक-दूसरे को तोहफे देते हैं। करवा चौथ के व्रत को बेहद कठिन माना जाता है। इस दिन निर्जला व्रत रखकर महिलाएं अपने सौभाग्य की कामना करती हैं। सोलह श्रृंगार कर चंद्रमा की पूजा करती हैं और च... Read more...
Logo
करवा चौथ का त्योहार दीपावली से नौ दिन पहले मनाया जाता है। हिन्दू कैलेंडर के अनुसार करवा चौथ का व्रत हर साल कार्तिक मास की चतुर्थी को आता है। इस बार करवा चौथ का व्रत (कल) यानी 27 अक्टूबर 2018 को है। इस बार करवा चौथ पर अत्यंत शुभ योग बन रहे हैं। पंडितों के अनुसार इस बार 11 साल बाद करवाचौथ पर राजयोग बन रहा है।  इसके साथ ही सर्वार्थसिद्धि और अमृतसिद्धि योग भी बन रहे हैं। तीन एक साथ शुभ योगों के होने के कारण इस बार करवाचौथ की पूजा अत्यंत ही शुभ मुहूर्त में होगी। इससे पहले 2007 में करवाचौथ पर राजयोग बना था।  शाद... Read more...
Logo
धनी या निर्धन होना सब भाग्य पर निर्भर करता लेकिन कुछ खास तरीकों को अपनाकर भी धनी योग बन सकते हैं। ऐसे योगों को बुलाता है सिद्धिदायक शाबर मंत्र। सिद्धिदायक शाबर मंत्रों की रचना गुरु गोरखनाथ आदि योगियों ने की थी। इन मन्त्रों में प्रत्येक देवता तथा हर प्रकार के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए मंत्र दिये गये हैं। इनमें लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र भी सम्मिलित हैं।  आधुनिक परिवेश में इन मंत्रों को सिद्ध करना सरल है तथा इसमें विपरीत प्रभाव होने की सम्भावनाएं भी कम रहती हैं परन्तु इस प्रकार के लक्ष्मी प्र... Read more...
Logo
कुछ खास काम करने वाले लोगों को धन की देवी मां लक्ष्मी बिल्कुल पसंद नहीं करती और वहां कभी निवास भी नहीं करतीं। वे लोग और कौनसे हैं वे काम आइए जानें कौन से हैं।  गरुड़ पुराण के अनुसार, जो लोग बिना किसी बात या छोटी-छोटी बातों पर दूसरों पर चीखते-चिल्लाते हैं, उन्हें अपशब्द कहते हैं। ऐसे लोगों को भी देवी लक्ष्मी त्याग देती हैं। जो लोग इस प्रकार का व्यवहार अपने जान-पहचान वाले, नौकर या अपने अधीन काम करने वालों के साथ करते हैं उनका स्वभाव बहुत ही क्रूर होता है। इनके मन में किसी के प्रति प्रेम या दया नहीं हो... Read more...
Logo
आज शरद पूर्णिमा है। यह रात कई मायने में महत्वपूर्ण है। हिंदू धर्म में शरद पूर्णिमा का बहुत महत्व बताया गया है। इसे कोजागर पूर्णिमा, रास पूर्णिमा, कौमुदी व्रत के नाम से भी जाना जाता है। आश्विन माह के शुक्लपक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। कहते हैं इस दिन चंद्रमा की किरणों में अमृत भर जाता है और ये किरणें हमारे लिए बहुत लाभदायक होती हैं। हिंदू शास्त्रों के मुताबिक, इस रात को चांद से अमृत बरसता है।  मान्यता है कि यही वो दिन है जब चंद्रमा अपनी 16 कलाओं से युक्त होकर धरती पर अमृत की वर्षा क... Read more...
Logo
कार्तिक का महीना हिंदू धर्म में सबसे पवित्र और शुभ माना है। इस महीने यदि एक खास पौधे की पूजा नियमित और श्रद्धा से की जाए तो जीवन के सभी सुख झोली में आने लगते हैं। कहते हैं कि अगर कोई अपने मन की बात, भगवान को सीधे न कह सके, तो वह तुलसी के माध्यम से अपनी बात, भगवान तक पहुंचा सकता है। भगवान कृष्ण भी किसी की बात सुनें या न सुनें, लेकिन तुलसी जी की बात, हर हाल में सुनते हैं। तो अगर आपको सुख, दु:ख भगवान से शेयर करना हो तो उसके लिये पुराणों में बताई गई विधि से, तुलसी माता की पूजा करनी होगी। इसी विधि से भगवान श्रीहरि... Read more...
Logo
हिंदू धर्म में शंख का बहुत महत्व होता है। ऐसी मान्यता है कि इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। वहीं विज्ञान की माने तो अगर रोजाना सुबह-शाम की पूजा में शंख बजाया जाए तो लोग भी कम बीमार पड़ते हैं।  वैसे तो हम सभी इस बात से वाकिफ ही हैं कि शंख अलग-अलग प्रकार के होते हैं, और अब आज हम हम आपको एक खास प्रकार के शंख के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे तिजोरी में रखने से धन की कभी कमी नहीं होती है। जी हां, आज हम जिस शंख की बात करें जा रहे हैं उसका नाम है मोती शंख। शंख की विधि-... Read more...
Logo
नवरात्रि के पर्व का हिंदू धर्म में काफी महत्व है। सभी घरों में नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा अर्चना की जाती है और व्रत भी रखा जाता है। नवरात्र में नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा भी की जाती है।  ऐसे में पूजा के लिए कई सामग्री की भी जरूरत नौ दिनों तक पड़ सकती है। नवरात्रि के पूजा में बहुत सारी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। जी हां, जिससे पूजा सही से संपन्न हो सके और इसका उचित फल प्राप्त हो सके। ऐसे में कभी कभी या कई बार कुछ ऐसी गलतियां हो जाती है जिससे पूजा का लाभ भी... Read more...
Logo
नवरात्रि के पर्व का हिंदू धर्म में काफी महत्व है। सभी घरों में नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा अर्चना की जाती है और व्रत भी रखा जाता है।  नवरात्र में नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा भी की जाती है। बहुत से लोग नवरात्रि के दौरान अपने घरों में अखंड ज्योत जलाते है और व्रत रखते है। नवरात्रि पर आज हम आपको वास्तु के बारे में बताने जा रहे हैं। नवरात्रि में वास्तु की कुछ बातों को जिन्हे जानकर आपको लाभ होगा। वास्तु के अनुसार, जब भी पूजा में ध्यान करें उस समय उत्तर-पूर्व दिशा (ई... Read more...
Logo
यूं तो साल में चार बार नवरात्र आते हैं लेकिन शारदीय नवरात्र अधिक महत्वपूर्ण माने जाते हैं। पुराणों के अनुसार इन नवरात्रों के दौरान अगर आपको कुछ खास संकेत मिलने लगें तो समझ लों कि मां लक्ष्मी के साथ समस्त ब्रहामाण्ड की शक्तियां आप पर मेहरबान हैं।  भारतीय संस्कृति में सोलह श्रृंगार को शुभता का संकेत माना गया है। जिस घर की महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं, वहां सुख और समृद्धि अपना बसेरा बना कर वास करती है। नवरात्र में यदि किसी ऐसी महिला के दर्शन हो जाएं जो पूरे सोलह श्रृंगार किए हो तो उस दिन आपको ह... Read more...
Logo
शारदीय नवरात्रि 2018 बुधवार 10 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। इस नवरात्र में मां दुर्गा का आगमन नाव से होगा और हाथी पर मां की विदाई होगी। इस बार चित्रा नक्षत्र में मां भगवती का नाव से आगमन होगा। पहली बार नवरात्र की घट स्थापना के लिए काफी कम समय मिल रहा है। प्रतिपदा के दिन घट स्थापना के लिए केवल एक घंटा दो मिनट का शुभ मुहूर्त का समय मिल रहा है।  चित्रा नक्षत्र में शारदीय नवरात्र का पहला और दूसरा नवरात्र 10 अक्टूबर को है। दूसरी तिथि का क्षय है। अर्थात शैलपुत्री और ब्रह्मचारिणी देवी की आराधना एक ही दिन होगी... Read more...
Logo
कुछ लोग इसे भले ही अंधविश्वास मानें लेकिन लाल किताब के अनुसार नींबू, साबुत मिर्च और लौंग के कुछ खास टोटके आपकी तकदीर को बदलने की ताकत रखते हैं। अगर आपके बुरे दिन चल रहे हैं या हर जगह घाटा उठाना पड रहा है तो एक केले के पत्ते पर 1 निम्बू, 7 मिर्च, 7 लड्डू, 2 बत्ती, 2 लोंग, 2 बड़ी इलायची रखकर, उसे रात को 12 बजे किसी चौराहे पर रख आएं। ध्यान रखें कि पीछे मुडकर नहीं देखें। आपकी सारी पीडा और दुख –दर्द कुछ ही दिनों में दूर होने लगेंगे।  इसके अलावा लाल किताब में कुछ और भी खास उपाय बताए गए हैं जो आपकी तकदीर को बदल सकते ह... Read more...









   ECONOMY   
Pic
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>>> खाद्य पदार्थों की ... Read more