astrology
Logo
मां लक्ष्मी हमेशा उन्हीं का साथ देती हैं जो उन्हें पसंद आते हैं। गरुड़ पुराण के अनुसार कुछ खास काम करने वाले लोगों को मां बिल्कुल पसंद नहीं करती और वहां कभी निवास भी नहीं करतीं। आइए जानें कौन से हैं वे लोग और कौनसे हैं वे काम- गरूड पुराण के अनुसार मैले वस्त्र यानी गंदे कपड़े पहनने वालों को देवी लक्ष्मी त्याग देती हैं। कहने का तात्पर्य है कि यदि आप साफ-स्वच्छ रहेंगे तो लोग आपसे मिलने-जुलने में संकोच नहीं करेंगे।  यदि आप कोई व्यापार करते हैं तो जान-पहचान बढ़ने से आपके व्यापार में भी इजाफा होगा। अ... Read more...
Logo
होलाष्टक 23 फरवरी से शुरू हो गए हैं। होलाष्टक अगले 7 दिनों तक यानी 1 मार्च तक होलिका दहन तक रहेंगे। इस बार होलाष्टक 7 दिनों के हैं। आमतौर पर 8 दिनों के रहते हैं। इस बार चतुर्दशी व पूर्णिमा एक ही दिन होने से होलाष्टक सात दिनों के हैं। होलाष्टक के 7 दिनों में कोई शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। होलिका दहन के साथ ही होलाष्टक समाप्त हो जाएगा। सभी शुभ व मांगलिक कार्यों के लिए ग्रहों का सौम्य होना जरूरी है। शास्त्रों में वर्णित है कि होलाष्टक के दौरान ग्रहों का स्वभाव उग्र हो जाता है। सभी 9 ग्रह फाल्गुन शुक्ल अष्ट... Read more...
Logo
सनातन धर्म में गाय को माता के समान सम्मानजनक स्थान प्राप्त है। हिंदू धर्म में गाय हमेशा कल्याणकारिणी तथा पुरुषार्थ-चतुष्टय की सिद्धि प्रदान करने वाली है। हमारे लिए गौमाता कितनी लाभदायक है आइए जानें जरा- जन्म पत्री में यदि शुक्र अपनी नीच राशि कन्या पर हो, शुक्र की दशा चल रही हो या शुक्र अशुभ भाव (6,8,12) में स्थित हो तो अपने प्रात: काल के भोजन में से एक रोटी सफेद रंग की गाय को 43 दिन तक लगातार खिलाने से शुक्र का नीचत्व और शुक्र सम्बंधित कुदोष स्वत: ही समाप्त हो जाते हैं। हमेशा भी देना शुभ है। सूर्य, चंद्र, ... Read more...
Logo
शास्त्रों के अनुसार पैर के अंगूठे के द्वारा भी शक्ति का संचार होता है। मनुष्य के पांव के अंगूठे में विद्युत संप्रेक्षणीय शक्ति होती है। यही कारण है कि अपने वृद्धजनों के नम्रतापूर्वक चरणस्पर्श करने से जो आशीर्वाद मिलता है, उससे व्यक्ति की उन्नति के रास्ते खुलते जाते हैं। चरण स्पर्श और चरण वंदना भारतीय संस्कृति में सभ्यता और सदाचार का प्रतीक माना जाता है।  आत्मसमर्पण का यह भाव व्यक्ति आस्था और श्रद्धा से प्रकट करता है। यदि वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो चरण स्पर्श की यह क्रिया व्यक्ति ... Read more...
Logo
रामायण, महाभारत, गरुड़ पुराण आदि ग्रंथों में कई ऐसे काम बताए गए हैं जो पूरी तरह वर्जित माने गए हैं। इन्हें करने से न केवल हमारे सम्मान में कमी आती है बल्कि हमें अपयश भी मिलता है। यदि कोई व्यक्ति संतान के पालन-पोषण में अनदेखी करता है तो संतान बिगड़ जाती है। संतान संस्कारी नहीं है और गलत काम करती है तो इससे अपमान ही प्राप्त होता है। जब घर के बड़ों की अनदेखी होती है तो संतान असंस्कारी हो सकती है। अत: माता-पिता को संतान के अच्छे भविष्य के लिए उचित देखभाल करनी चाहिए। संतान को अच्छे संस्कार मिले इस बात का ... Read more...
Logo
फागुन का महीना चल रहा है। फागुन माह में होली से पहले होलाष्टक लगते हैं। इस बार होलाष्टक 7 दिनों के हैं। आमतौर पर 8 दिनों के रहते हैं। होलाष्टक के 7 दिनों में कोई शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। होलिका दहन के साथ ही होलाष्टक समाप्त हो जाएगा। शास्त्रों में वर्णित कथनों के अनुसार होलाष्टक के दौरान ग्रहों का स्वभाव उग्र रहता है। सभी 9 ग्रह फाल्गुन शुक्ल अष्टमी ( 23 फरवरी) से पूर्णिमा (1 मार्च) तक उग्र रहेंगे। शुभ कार्य इसलिए नहीं हो सकेंगे, क्योंकि सभी शुभ व मांगलिक कार्यों के लिए ग्रहों का सौम्य होना जरूरी है।&nb... Read more...
Logo
फागुन का महीना चल रहा है। फागुन माह में होली से पहले होलाष्टक लगते हैं। इस बार होलाष्टक 7 दिनों के हैं। आमतौर पर 8 दिनों के रहते हैं। होलाष्टक के 7 दिनों में कोई शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। होलिका दहन के साथ ही होलाष्टक समाप्त हो जाएगा। शास्त्रों में वर्णित कथनों के अनुसार होलाष्टक के दौरान ग्रहों का स्वभाव उग्र रहता है। सभी 9 ग्रह फाल्गुन शुक्ल अष्टमी ( 23 फरवरी) से पूर्णिमा (1 मार्च) तक उग्र रहेंगे। शुभ कार्य इसलिए नहीं हो सकेंगे, क्योंकि सभी शुभ व मांगलिक कार्यों के लिए ग्रहों का सौम्य होना जरूरी है।&nb... Read more...
Logo
वास्तु में सीढिय़ों का विशेष महत्व है, भवन के दक्षिण-पश्चिम यानि कि नैऋत्य कोण में सीढ़ियां बनाना वास्तु की दृष्टि में बहुत शुभ माना जाता है। सीढ़ियां बनाते वक्त किसी भी इमारत या भवन में यदि वास्तुशास्त्र के नियमों का पालन किया जाए तो उस स्थान पर रहने वाले सदस्यों के लिए यह कामयाबी एवं सफलता की सीढ़ियां बन सकती है।  भवन के दक्षिण-पश्चिम यानि कि नैऋत्य कोण में सीढ़ियां बनाने से इस दिशा का भार बढ़ जाता है जो वास्तु की दृष्टि में बहुत शुभ माना जाता है। इसलिए इस दिशा में सीढ़िय़ों का निर्माण सर्वश... Read more...
Logo
यदि घर में किसी बच्चे या बड़े व्यक्ति को बुरी नजर लग जाए तो उसके सिर से पैर तक सात बार नींबू वार लें। इसके बाद इस नींबू के चार टुकड़े करके किसी सुनसान स्थान या किसी तिराहे पर फेंक दें। इसके अलावा नींबू के ढेरों ऐसे टोटके हैं, जिनको करने से जीवन के सभी कष्‍ट और दुख कुछ ही दिनों में गायब हो जाएंगे।   यदि किसी व्यक्ति का व्यापार ठीक से नहीं चल रहा है तो उसे शनिवार के दिन नींबू का तांत्रिक उपाय करना चाहिए। इस उपाय के अनुसार एक नींबू को दुकान की चारों दीवारों से स्पर्श कराएं। इसके बाद नींबू को चार टुक... Read more...
Logo
शास्त्रों में रुद्राक्ष को भगवान शिव का आंसू बताया गया है। धरती पर इसे सबसे पवित्र धातु भी बताया गया है। रुद्राक्ष एकमुखी से लेकर चौदह मुखी तक होते हैं| पुराणों में प्रत्येक रुद्राक्ष का अलग-अलग महत्व और उपयोगिता उल्लेख किया गया है। कुछ खास रुद्राक्ष को धारण करने से सभी ग्रह अनुकूल होने लगते हैं और आपके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आने लगते हैं।  एकमुखी रुद्राक्ष एकमुखी रुद्राक्ष साक्षात रुद्र स्वरूप है। इसे परब्रह्म माना जाता है। सत्य, चैतन्यस्वरूप परब्रह्म का प्रतीक है। साक्षात शिव स्व... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>> फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को महाशिवरात्रि का त्योहार मनाया जाता है. माना जाता है कि सृष्टि का प्रारंभ इसी दिन से हुआ था. यह भी मान्यता है कि इसी दिन भगवान शिव का विवाह माता पार्वती से हुआ था. साल में होने वाली 12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है. इसी दिन से जुड़ी एक और मान्यता है कि महाशिवरात्रि के दिन ही भगवान शिव ने कालकूट नामक विष को अपने कंठ में रख लिया था, जो समुद्र मंथन के दौरान बाहर आया था. इस विशेष दिन पर सही समय और सही विध... Read more...
Logo
नई दिल्ली (लाइव इंडिया न्यूज नेटवर्क) >>>>>>>> देशभर में मंगलवार को बड़ी धूमधाम से महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है। भगवान शिव के मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की भीड़ नजर आ रही है। इस बार महाशिवरात्रि मंगलवार और बुधवार को दो दिन मनाई जा रही है। दोनों ही दिन भक्त भोलेनाथ का जलाभिषेक कर सकते हैं। महाशिवरात्रि की रात हिंदू धर्मग्रंथों में बेहद महत्वपूर्ण है। महाशिवरात्रि हिन्दुओं का एक प्रमुख त्यौहार है। मान्यता है कि आज ही के दिन भगवान शिव का देवी पार्वती के साथ विवाह हुआ था। महाशिवरात... Read more...
Logo
महादेव को रिझाना सबसे आसान काम है। कहते हैं कि पूजा के समय अगर कुछ खास नियमों को देख पूजा कर ली जाए तो महादेव तुरंत प्रसन्न होकर जातक को आशीर्वाद देने लगते हैं। पूजा के समय चंदन, भस्म, त्रिपुण्ड और रुद्राक्ष माला ये शिव पूजन के लिए विशेष सामग्री हैं जो पूजा के समय शरीर पर होनी चाहिए।  शिवलिंग अथवा अपने ललाट पर तिलक-त्रिपुण्डविधि विधान से लगाना चाहिए। सर्वप्रथम अंगूठे से ऊधर्वपुण्ड (नीचे से ऊपर की ओर) लगाने के बाद मध्यमा और अनामिका उंगली से बांईं ओर से प्रारम्भ कर दाहिनी ओर भस्म लगानी चाहिए। इसक... Read more...
Logo
महाशिवरात्रि एक हिन्दू त्योहार है जो हर साल भगवान शिव के भक्तों द्वारा मनाया जाता है। महाशिव रात्रि अपने आप में विशेषकर पुण्यदायक साधना पर्व है क्योंकि शिव वही है, जिन्होंने रावण को अटूट बल दिया। मार्कण्डेय को अपना कर यमराज से मुक्ति दिलवाई। परशुराम को बलशाली बनाया और समस्त दीन-दुखियों, दरिद्र प्राणियों, संकटग्रस्त जीवों, लावारिसों आदि समस्त प्राणियों के जीवन की रक्षा कर उन्‍हें समृद्ध बनाते हैं। शिव का अर्थ मंगलमय और मंगलदाता है। शिव के इस मंगलमय रूप की उपासना समस्त जातकों, सिद्धों और सा... Read more...
Logo
महादेव ने विद्येश्वर संहिता में स्वयं कहा है कि जो व्यकक्ति महाशिवरात्रि को निराहार और जितेन्द्रिय होकर उपवास रखता है और उसी रात को चारों प्रहर की पूजा करता है उसकी कोई भी मनोच्छा कभी अधूरी नहीं रहती। देवों के देव महादेव की सेवा कर उनसे मनचाहा वर मांगने का दिन है महाशिवरात्रि। इस साल यह पर्व 13 फरवरी को मनाया जाएगा। धार्मिक पुराणों में इस रात्रि को खासा महत्व दिया गया है। ग्रंथों के अनुसार इस रात यदि चारों प्रहर की पूजा की जाए तो जीवन के सभी कष्ट दूर होकर मनवांछित फलों की प्राप्ति होती है। इन चा... Read more...
Logo
दो विभिन्न व्यक्तियों के प्रेम सम्बंधों का मुख्य आधार उनकी राशि, राशि स्वामी के मैत्री सम्बंधों और राशियों की प्रकृति पर आधारित है। ज्योतिष में राशियों को चार तरह से विभाजित किया गया है। अग्नि, भूमि, वायु और जल तत्व।  अग्नि तत्व स्वभाव के लोग गर्म मिजाज के होते हैं और इस तत्व के तहत मेष, सिंह व धनु राशियां आती हैं। भूमि तत्व वाली राशियां पृथ्वी की तरह धीरज व शीतल स्वभाव की होती हैं। इस तत्व वाली राशियां वृष, कन्या व मकर राशि हैं।  वायु तत्व वाली राशियां अस्थिर चित्त और दोहरे स्वभाव वाली होने क... Read more...
Logo
अक्सर मनुष्य यह कहता है कि मेरी नींद पूरी नहीं हो पाती है। मैं रातभर चैन से सो नहीं पाता हूं। ऐसा लगता है जैसे दिमाग पूरी रात सक्रिय रह रहा है, आदि. . .आदि। वास्तव में ऐसा होता भी है और यह सब होता है विपरीत दशाओं में सोने पर। वास्तु शास्त्र में फलदायी निंद्रा हेतु विभिन्न स्थितियां बतायी गई हैं। आइए डालते हैं एक नजर उन स्थितियों पर— 1. यदि कोई व्यक्ति दक्षिण दिशा की ओर सिर एवं उत्तर दिशा की ओर पैर करके सोता है तो ऐसा व्यक्ति सुख, शान्ति एवं समृद्धि की प्राप्ति करता है।  2. जो व्यक्ति पूर्व दिशा की ओर स... Read more...
Logo
यूं तो मनचाहा जीवनसाथी मिलना नसीब पर निर्भर करता है लेकिन ज्योतिष के अनुसार महादेव पर अगर इस खास फूल को अर्पण किया जाए तो न केवल मनचाहा वर-वधू मिलता है बल्कि विपरीत आकर्षण में भी बढोतरी होती है।  कहते हैं महादेव तो केवल जल अर्पण करने भर से प्रसन्न होने वाले देवता हैं लेकिन बेला के फूल भगवान शिव तो अतिप्रिय हैं। शास्त्रों के अनुसार सुन्दर और सुशील जीवन साथी प्राप्ति के लिए प्रातः काल स्नान आदि के पश्चात किसी शिवमंदिर में तांबे या पीतल के लोटे में गंगा जल यदि गंगा जल उपलब्ध न हो तो शुद्ध जल और बेल... Read more...
Logo
कई बार हमारे काम होते-होते अटक जाते हैं। ऐसे में कई बार हम ज्योतिषी के पास जाते हैं तो कई बार कुछ उल्टे-सीधे टोटकों में खुद को थकाते रहते हैं। ऐसे में परखे हुए कुछ खास उपाय किए जाएं तो सभी काम पूरे होने लगते हैं।  परेशानी से मुक्ति के लिए तांबे के पात्र में जल भर कर उसमें थोडा सा लाल चंदन मिला दें। उस पात्र को सिरहाने रख कर रात को सो जाएं। प्रातः उस जल को तुलसी के पौधे पर चढ़ा दें। यदि कन्या की शादी में कोई रूकावट आ रही हो तो पूजा वाले 5 नारियल लें। भगवान शिव की मूर्ती या फोटो के आगे रख कर “ऊं श्रीं वर ... Read more...
Logo
रिश्तों में गर्मजोशी एवं प्रेमभाव बनाये रखने के लिए यहां दिए गए छोटे-छोटे सरल उपाय कारगर सिद्ध हो सकते है।  पति परमेश्वर के गुस्से से परेशान पत्नी के लिए भी एक आसान उपाय है। शुक्ल पक्ष के पहले रविवार या सोमवार या गुरूवार अथवा शुक्रवार को एक नए सफ़ेद रंग के वस्त्र या रूमाल में गुड़ की डली, चांदी एवं तांबे के दो सिक्के, एक मुट्ठी नमक तथा एक मुट्ठी साबुत गेहूं बांधकर बिना किसी को बताये चुपचाप अपने बैडरूम में किसी ऐसी जगह पर छुपाकर रखदे जहां पति की नजर उस पर न पड़े।  प्रातः भोजन बनाते समय पहली रोटी बना... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> आज माघी पूर्णिमा को इस साल (2018) का पहला चंद्र ग्रहण लग रहा है। इस दिन चांद आम दिनों के मुकाबले बड़ा दिखाई देगा। सूतक काल यानी ग्रहण का अशुद्ध समय सुबह 08:21 बजे शुरू होगा और यह रात 08:41 पर खत्म हो जाएगा। मंदिर के कपाट सुबह सिर्फ सवा पांच बजे से 8.15 तक ही खुले रहेंगे। आंशिक चंद्र ग्रहण शाम 5:18 से शुरू होगा। पूर्ण चंद्र ग्रहण शाम 06:22 बजे से लेकर 07:38 बजे तक चलेगा। वहीं आंशिक चंद्र ग्रहण भी 08:41 पर खत्म होगा। यह ग्रहण पूरे भारत में दिखाई देगा। ये ग्रहण लगभग 150 साल बाद आया है। इस ग्रहण को खग्रास ... Read more...
Logo
जयपुर (एजेंसी) >>>>>> बुधवार को पूर्ण चंद्रग्रहण है। पूर्ण चंद्रग्रहण पर चांद नारंगी रंग का नजर आएगा। ग्रहण 3 घंटे 24 मिनट रहेगा। यह शाम 5 बजकर 21 मिनट से शुरू होकर रात 8 बजकर 45 मिनट तक रहेगा। पूर्ण चंद्रग्रहण पर चांद नारंगी रंग का नजर आएगा। खगोलीय भाषा में इसे ब्लड मून और ब्लू मून कहते हैं। 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकेगा सुपरमून  यह चंद्रमा सुपरमून की श्रेणी में शामिल है जो सामान्य दिनों की तुलना में 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकेगा। 35 साल के लंबे अंतराल के बाद पूर्ण चंद्रग्रहण और... Read more...
Logo
धर्म शास्त्रों में भगवान सूर्य की पूजा-अर्चना का विशेष महत्व है। सूर्य उपासना से न केवल सुख-समृद्धि आती है, बल्कि यश भी बढ़ता है। महिलाओं को रविवार और सोमवार को सूर्योपासना से घर में समृद्धि व गर्भवती महिलाओं को गुणी पुत्र की प्राप्ति होती है। बह्मवैवर्त पुराण के अनुसार इन दिनों में खेजड़ी के पेड़ के नीचे प्रात: काल सूर्योपासना करते हुए इस मंत्र का 51 बार जाप करने से लाभ मिलता है-  नम: उग्राय वीराय सारंगाय नमो नम:।  नम: पद्मप्रबोधाय प्रचंडाय नमोऽस्तु ते ।।  ओम आदित्याय नम: ।  आत्मबल, बुद्धि, इ... Read more...
Logo
शास्त्रों में ऐसे कई कामों के बारे में बताया गया है, जिन्हें करने से मनुष्य को पुण्य मिलता है। गरुड़ पुराण में कुछ ऐसी भी चीजें बताई गई हैं, जिन्हें केवल देख लेने से ही मनुष्य को पुण्य और लाभ की प्राप्ति हो जाती है। गोमूत्र गोमूत्र को बहुत ही पवित्र माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार गोमूत्र में मां गंगा का वास होता है। गोमूत्र को औषधि के रूप में भी उपयोग किया जाता है। इसे पीने से कई बीमारियों का इलाज किया जा सकता है। गोमूत्र को धारण करने मनुष्य की मनोकामनाएं पूरी होती हैं, लेकिन गरुड़ पुराण के अनु... Read more...
Logo
ज्योतिष विद्या जिसके द्वारा किसी भी व्यक्ति के स्वभाव को समझने तथा उनके भविष्य के रहस्य को सुलझाने में प्रयोग होता है। मनुष्य के जन्म के समय और उस तिथि के द्वारा उसके कुंडली का निर्माण किया जाता है। हस्तरेखा के द्वारा भी किसी व्यक्ति के वर्तमान को समझा जा सकता है। ऐसे ही भारत के प्राचीन विद्याओं में एक और विद्या है समुद्र शास्त्र। आइए आज हम जानते हैं किस प्रकार व्यक्ति के शारीरिक बनावट, शरीर में स्थित चिन्ह या उसके हाव-भाव से उस व्यक्ति के भविष्य और उसका वर्तमान जान सकते हैं।  समुद्र शास्त्र: ... Read more...
Logo
गीता के एक श्‍लोक में कहा गया है  विष्णुरेकादशी गीता तुलसी विप्रधेनव:।  असारे दुर्गसंसारे षट्पदी मुक्तिदायिनी।।  यानी जीवन में अगर 4 चुनींदा नियमों का अनुसरण किया जाए तो बुरे दिनों को भी अच्छों में बदला जा सकता है- श्री हरि का सुमिरन करना  बुरे दिनों को अच्छों में बदलने का सबसे बडा सूत्र है भगवान श्री हरि का पूजन और ध्यान करना। भगवान विष्णु परमात्मा के तीन स्वरूपों में से एक जगत के पालक माने गए हैं। श्रीहरि ऐश्वर्य, सुख-समृद्धि और शांति के स्वामी भी हैं। विष्णु अवतारों की पूजा करने पर धर... Read more...
Logo
 किसी भी अशुभ तिथि पर सुबह जल्दी उठें और स्नान आदि के बाद शिव मंदिर में शिवलिंग पर तांबे का नाग चढ़ाएं। बाजार में किसी भी सोने-चांदी के व्यापारी से चांदी का नाग-नागिन का जोड़ा खरीदें और उस जोड़े को नदी में बहा दें। साथ ही, इष्टदेव से कालसर्प दोष का अशुभ असर दूर करने की प्रार्थना करें।  हर रोज शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ऊॅं नम: शिवाय मंत्र का जप करें। जप की संख्या कम से कम 108 होगी तो श्रेष्ठ रहेगा। किसी गरीब व्यक्ति को कला कंबल, काली उड़द का दान करें।  गरीब व्यक्ति का अनाद... Read more...
Logo
महादेव के सभी भक्तों को रुद्राक्ष धारण करना बेहद जरूरी है। पुराणों के अनुसार रुद्राक्ष की उत्पति के सम्बन्ध में कहा गया है कि एक बार भगवान आशुतोष शंकर जी ने देवताओं एवं मनुष्यो के हित के लिए असुर त्रिपुरासुर का वध करना चाहा और एक सो वर्षो तक तपस्या की। भगवान के मनोहर नेत्रों से आंसू गिरे उन्हीं आंसुओं से रुद्राक्ष के महान वृक्षों की उत्पति हुई| कहते हैं रूद्राक्ष को धारण करने वाला जातक हर तरह के अमंगल से दूर रहता है। कहते हैं, जो पूरे नियमों का ध्यान रख श्रद्धापूर्वक रुद्राक्ष को धारण करता है, उ... Read more...
Logo
हर साल मकर संक्रांति का पर्व बहुत ही उमंग व उत्साह से मनाया जाता है। ज्योतिष के अनुसार मुख्य रूप से ये पर्व सूर्य के उत्तरायण होने की खुशी में मनाया जाता है। इस दिन भगवान सूर्य की पूजा करने का भी विधान है। कुंडली में स्थित सूर्य की स्थिति के कारण ही लोगों को सफलता और असफलता जैसी स्थिति का सामना करना पडता है। ज्योतिष के अनुसार यदि इस दिन सूर्यदेव को प्रसन्न करने के लिए कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो उसका विशेष फल मिलता है और सूर्यदेव प्रसन्न होते हैं और उपाय करने वाले के लिए किस्मत के दरवाजे खुल जाते ह... Read more...
Logo
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>> मकर संक्रान्ति हिन्दुओं का प्रमुख पर्व है। मकर संक्रान्ति का पर्व पूरे भारत में हर साल जनवरी के महीने में धूमधाम से मनाया जाता है। पौष मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है तभी इस पर्व को मनाया जाता है। यह त्योहार जनवरी माह के चौदहवें या पन्द्रहवें दिन ही पड़ता है, क्योंकि इसी दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ मकर राशि में प्रवेश करता है। मकर संक्रान्ति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति भी प्रारम्भ होती है। इसलिए इस पर्व को कहीं-कहीं उत्तरायणी भी कहते हैं। 80 साल पहले के पंचांगो... Read more...
Logo
लोहडी उत्तर भारत का एक सबसे लोकप्रिय त्यौहार है। लोहडी को पंजाबी और हरियाणवी लोग बहुत उल्लास से मनाते हैं। पारंपरिक तौर पर लोहडी फसल की बुआई और उसकी कटाई से जुडा एक विशेष त्यौहार है। यह मकर संक्रान्ति के एक दिन पहले मनाया जाता है। मकर संक्रान्ति की पूर्वसंध्या पर इस त्यौहार का उल्लास रहता है। इन दिनों देशभर में पतंगों का ताता लगा रहता हैं। देश में भिन्न-भिन्न मान्यताओं के साथ इन दिनों त्योहार का आनंद लिया जाता है। इस दिन सभी अपने घरों और चौराहों के बाहर लोहड़ी जलाते हैं। आग का घेरा बनाकर दुल्ल... Read more...
Logo
मां लक्ष्मी की कृपा और देवों का आशीर्वाद रहता है तो कभी भी कर्जा सिर पर नहीं होता लेकिन फिर भी कोई जातक कर्जे की मार से परेशान हो तो कुछ खास उपायों से जल्दी ही निजात पा सकता है।  कर्ज से तंग जातक सोमवार को एक रूमाल, 5 गुलाब के फूल, 1 चांदी का पत्ता, थोड़े से चावल तथा थोड़ा सा गुड़ लें और किसी विष्णु-लक्ष्मी मंदिर की मूर्ति के सामने रखकर 21 बार गायत्री मंत्र का पाठ करे। यह प्रक्रिया 7 सोमवार करें तो अनुकूल योग बनने लग जाते हैं और कर्जा संबंधी परेशानियां जल्द दूर होने लगती हैं। ऐसे जातक मंगलवार को शिव मन्दिर ... Read more...
Logo
शास्‍त्रों में तुलसी को बेहद पवित्र और प्रभावी माना गया है। अगर तुलसी के कुछ टोटकों पर अमल किया जाए तो घर में न केवल खुशियों का वास होगा बल्कि आप मालामाल भी रहेंगे। तुलसी का पौधा घर में किचन के पास रखने से घर के सभी सदस्यों में आपसी प्रेम और भाई चारा बना रहता है। रोज सुबह श्याम तुलसी के पौधा के नीचे देशी घी का दीपक जलाएं, और तुलसी के पौधा के आसपास स्वछता का हमेशा ध्यान रखें। घर में हमेशा खुशियों का आगम रहेगा।  जिन दंपत्तियों के यहां संतान न हो वो तुलसी नामाष्टक सुनें, घर में गूंजेगी किलकारी। तुल... Read more...
Logo
क्‍या आप जानते हैं कि आपका पर्स अक्‍सर खाली क्‍यों रहता है? या पैसा क्‍यों नही टिकता? सच्‍चाई यह है कि कई बार ऐसे कुयोग बनने लगते हैं कि लगातार आर्थिक नुकसान होने लगता है। पैसा नहीं बचता और तो और कर्जा भी होने लगता है। ऐसे में कुछ खास जतन करने से पैसों को रोका जा सकता है- वास्तु के अनुसार पर्स में पुराने बिल या कागज राहु की दशा बढ़ाते हैं। पर्स में केवल पैसे ही रखने चाहिए। फालतू और फटे हुए कागजों को रखने से आर्थिक नुकसान होने लगता है। फटा हुआ पर्स पैसे का सबसे बडा दुश्मन है। यदि आपका पर्स थोड़ा सा भ... Read more...
Logo
धर्म ग्रंथों के अनुसार शनिदेव को ग्रहों में न्यायाधीश का पद प्राप्त है। मनुष्य के अच्छे-बुरे कर्मो का फल शनिदेव ही उसे देते हैं। भगवान शनिदेव की अगर बुरी नजर किसी पर प़ड जाए तो उसकी जिंदगी नर्क बन जाती है। अगर किसी पर कृपा दृष्टि बन जाए तो उसका जीवन मंगलमय हो जाता है। लेकिन अगर आप अपने जीवन में कुछ अच्छा करने की सोचते हैं और सब विपरीत हो जाता है तो चिंता मत करे क्योकिं आप अपने जीवन में आये हुए तमाम संकट कों कुछ ही दिनों में दूर कर के खुशियां पा सकते हो।  इन दस नियमों का पालन करके आप एक बार जरूर देखे... Read more...
Logo
तिल चौथ का व्रत माघ कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन किया जाता है। इसे माही चौथ और संकट चौथ के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन भगवान श्रीगणेश की आराधना करना सुख-सौभाग्य की दृष्टि से श्रेष्ठ माना जाता है। उत्तर भारत सहित मध्य प्रदेश, राजस्थान और महाराष्ट्र में इस व्रत को पूरी श्रद्धा के साथ रखा जाता है। इस संकष्टी चतुर्थी, सकट चौथ के पर्व पर महिलाएं अपने परिवार की सुख और समृद्धि के लिए निर्जल व्रत रखेंगी और गणेश जी की पूजा करेंगी। जिससे उनके परिवार पर कभी भी किसी भी तरह से कोई परेशानी न आए। संकट चौथ ... Read more...
Logo
जीवन में कुछ चीजों को बेहद शुभ माना गया है। शास्त्रों के अनुसार ये पांच चीजों को घर में रखा जाए तो न पैसों की कमी रहती है बल्कि सुख-सम्पन्नता और समृद्धि भी प्रचुर मात्रा में मिलती है- जोडीदार चीजें----  घर में कोई भी चीज रखें तो वो जोडे से हो। मोर, गाय, हंस, बत्तख, हिरण जैसे अच्छे अहिंसक पशुओं के चित्र या मूर्ति रखने का भी चमत्कारिक लाभ मिलता है। इससे जहां दांपत्य जीवन सुखमय बनता है, वहीं यह भाग्य को जगाने वाला भी रहता है। कुछ वास्तुशास्त्री मानते हैं कि इन चित्रों या मूर्ति का मुंह एक-दूसरे की तरफ होन... Read more...
Logo
आपकी किस्मत के ताले खोलने के लिए ज्योतिष में कई उपाय बताए हैं, उनमें से मैटल भी एक है। कहते हैं कि अपने-अपने नंबर्स के अनुसार कुछ खास तरह के मैटल धारण करना जातक के लिए बेहद शुभ होता है। जानें आपका नंबर और मैटल- मूलांक 1 :- 1, 10, 19 और 28 तारीख को जन्में लोगों के लिए लकी मेटल है गोल्ड। न्यूमरॉलजी के हिसाब से फरवरी, अप्रैल और अगस्त महीने भी नंबर 1 को रिप्रजेंट करते हैं। इसलिए इन महीनों में जन्मे लोगों के लिए भी गोल्ड लकी है।  मूलांक 2 :- 2, 11 और 20 तारीख को जन्में लोगों के लिए लकी मेटल है गोल्ड। न्यूमरॉलजी के हिसाब से... Read more...
Logo
धन, यश प्राप्ति के लिए लोग क्या क्या नहीं करते, पूजा करते है, दान पुन के काम करते है लेकिन फिर भी उनके हाथ निराशा ही लगती है। पैसा पानी की तरह बहाने की बजाए आप घर में जानवरों को पालकर ही अपनी पैसों की तंगी को दूर कर सकते है। कुत्ता अक्सर लोग कुत्ते को देखकर हट हट , शूह शूह करते है, लेकिन वे ये नहीं जानते है की कुत्ता ही धन प्राप्ति का सबसे अच्छा स्त्रोत होता है। कुत्ते को घर में पालने से व उनको सुबह शाम खिलाने से घर की आय बढ़ती है और दौलत की प्राप्ति भी होती है । लोग शायद ही जानते होंगे कि कुत्ता भैरव का सेवक... Read more...
Logo
सूर्योदय से पूर्व उठने की आदत डालें, इससे सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है जो तन, मन और मस्तिष्क को शांत करती है। प्रात: काल आसपास के खुले स्थान, पार्क या भवन की छत पर जाकर पूर्व दिशा की ओर मुंह करके थोड़ा व्यायाम करें और लंबी सांस लें। इससे प्रकृति में सुबह के समय व्याप्त सकारात्मक ऊर्जा यानी आक्सीजन का भरपूर उपयोग करके आप शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं।  अच्छे स्वास्थ्य के लिए भोजन करते समय आपका मुख सदा पूर्व या उत्तर में रहे। कभी भी पलंग पर बैठकर, खड़े होकर या आड़े-तिरछे बैठकर भोजन करें। भोजन य... Read more...
Logo
अधिकांशत: हर घर में मनी प्लांट का पौधा पाया जाता है। कहते हैं जिस घर में यह पौधा फलता फूलता है वहां पर लक्ष्मी का वास होता है अर्थात् जितनी तेजी से यह फैलता है उतनी ही गति से घर की आर्थिक स्थिति में सुधार होता है। इसी कारण से घरों में इस पौधे को लगाया जाता है।  वैसे तो इस पौधों को लगाने के बाद इसकी ज्यादा सार संभाल नहीं करनी पडती है लेकिन फिर भी कुछ ऐसी बातें हैं जो इस पौधे के विकास में अपना महत्त्व रखती हैं। जैसे इस पौधे को घर की किस दिशा में लगाना चाहिए और किस दिशा से इसे दूर रखना चाहिए।इसके अलावा प... Read more...
Logo
रात के समय में चांदी की कटोरी में कपूर और लौंग को जलाएं। इस टोटके को कुछ दिनों तक रोज करें। यह उपाय आपको धन से मालामाल कर देगा। पैसों की कमी भी नहीं रहेगी। जब हजार कोशिशों के बाद भी काम नहीं बनते हैं तो एैसे में कपूर आपकी किस्मत के ताले को खोल सकता है। शनिवार के दिन कपूर के तेल की बूंदों को पानी में डालें और फिर इस पानी से रोज स्नान करें। यह टोटका आपकी बंद किस्मत को खोलता है। और आपको बीमारियों से भी बचाता है। दुर्घटना कभी भी हो सकती है। एैसे में बचाव बहुत ही जरूरी है। आप रात के समय में कपूर को जलाकर हनु... Read more...
Logo
पैसों से जुडी समस्याओं को दूर करने के लिए शास्त्रों के अनुसार कई कार्य और नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने पर व्यक्ति के जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं रहती है।    1. पर्स में किसी भी प्रकार के बिल या भुगतान से संबंधित कागज नहीं रखने चाहिए।  2. कुछ लोग पर्स में ही चाबियां भी रखते है, चाबियां रखना भी अशुभ ही माना जाता है। इन्हें भी रुपए-पैसों से अलग ही रखना चाहिए।  3. पर्स में कभी भी कोई अश्लील चित्र या अन्य अश्लील सामग्री भी नहीं रखना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से पर्स की बरकत खत्म हो जाती है और ज... Read more...
Logo
हर कोई चाहता है कि उसके घर में हमेशा खुशियां आती रहे। इसके लिए कई प्रकार के जतन भी किए जाते हैं। लेकिन इसके बावजूद हमसे कोई न कोई चूक जाने अनजाने हो जाती हैं। लेकिन कई बार कुछ वास्तु दोष घर की खुशियां छीन लेते हैं। लेकिन कहते है हर चीज का उपाय भी होता है।  वास्तुशास्त्र के हिसाब से अगर आप घर की दिशाओं पर ध्यान नहीं देंगे तो आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। एक नजर किन वस्तुओं को वास्तुशास्त्र के हिसाब से रखना चाहिए...... — वास्तुशास्त्र के अनुसार दक्षिण-पश्चिम दिशा का संबंध पृथ्वी तत्त्व... Read more...
Logo
अपने वर्तमान जीवन को सुखी और अच्छा भविष्य बनाने के लिए हर इंसान जी जान से मेहनत करता है। लेकिन बहुत कम लोगों को ही अपनी कडी मेहनत का फल मिलता है। इस दुनिया में कई लोग ऐसे भी है अधिक मेहनत करते है लेकिन उनको सफलता नहीं मिलती। क्या आपने कभी सोचा है कि अपनी कडी मेहनता का फल क्यों नहीं मिला। ये सब घर से संबंधित वास्तु की गलतियों के कारण हो सकता है। जिन पर हम ध्यान नहीं देते और परेशानियों का सामना करते रहते हैं इसलिए इन सभी चिंताओं से मुक्ति हेतु वास्तु के कुछ उपायों पर अमल करना चाहिए।  1. घर में सदैव खान... Read more...
Logo
जब अचानक बच्चा अकारण ही रोने लगे, भूख का एहसास ना हो, खाना दिए जाने पर ना खाए और आँखों में अजीब सा खालीपन दिखे और या फिर चेहरे पर ऎसे भाव हों मानों वह सबसे अजनबी है और बाकी लोग भी उससे संबंधित नहीं हैं। युवा व अधे़ड व्यक्ति चि़डचि़डाने लगे, आंखों में उनके भी अजनबीपन हो, बनते कार्य बिग़डने लगें, स़डक पर सीधे चलते हुए अकारण विवाद होने लगे अथवा ट्रेफिक के सभी नियमों का पालन करते हुए भी, हल्की गति में चलते हुए भी यदि वाहन टकरा जाए तो मान लीजिए कि नजर लगी हुई है और नकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति के प्रभामंडल को प्र... Read more...
Logo
रिश्तों की डोर बहुत नाजुक होती है, फिर चाहे वह पति-पत्नी हों, सास-बहू हों, पिता पुत्र हों या फिर भाई-भाई, इनके बीच कभी न कभी आपस में टकराव हो ही जाता है। यदि बात नोकझोंक तक सीमित रहे तो ठीक लेकिन यदि कलह का रूप लेने लगे तो पारिवारिक वातावरण तनावपूर्ण हो जाता है। ज्योतिष के अनुसार जन्म पत्रिका के बाहर भावों में ग्रह और सामाजिक रिश्ते अलग-अलग भाव से होते है। व्यक्ति की कुंडली में ग्रहों ग्रह स्वामी, ग्रहों के आपसी संबंध, ग्रहों की दृष्टि, आदि का प्रभाव व्यक्ति के संबंधों पर पड़ता है। जो की परिवारजनों के... Read more...
Logo
सभी ग्रहों में सूर्य पुत्र भगवान शनिदेव को सबसे कू्र ग्रह माना गया है। भगवान शनिदेव हर राशि में विचरण करते हैं। किसी राशि में शनिदेव ढाई वर्ष तो किसी राशि साढे सात वर्ष तक रहते हैं। भगवान शनिदेव को कर्मो के अनुसार दण्ड देने का प्रतीक माना जाता है। जो जैसा कार्य करता है भगवान शनिदेव उसे वैसा ही दण्ड देते हैं। जिस किसी भी कुण्डली में शनिदेव विराजमान होते हैं वे इंसान हमेशा परेशान रहते हैं।  शास्त्रों के अनुसार कुछ उपाय करने से शनिदेव शांत रहते हैं और उस इंसान को शनिदेव कम परेशान करते हैं। शनिवा... Read more...
Logo
ज्योतिष में धन प्राप्त करने के कठिन से कठिन उपाय बताए गए हैं लेकिन उनमें से सबसे सरल और प्रभावी एक टोटका भी है रोटी का टोटका। आपने कभी सोचा है कि रोटी के कुछ उपायों के जरिए भी सुख-शांति और समृद्धि पाई जा सकती है।  देखें ये खास उपाय-  यदि आप बेरोजगारी के मारे हैं या व्यजवसाय में लगातार घाटा मिल रहा हो या नौकरी के लिए दर ब दर भटक रहे हैं तो दो रोटी को प्रतिदिन बिना नागा दान आपकी खासी मदद कर सकता है। शनिवार को घी में अच्छे से चुपडी रोटी को किसी पागल को प्यार से बैठकर खिलाने से आपके सभी प्रतिकूल ग्रह अन... Read more...
Logo
आज कलयुग के इस दौर में लोगों का एस्ट्रोलॉजी से विश्वस उठता चला जा रहा है, वे प्रैक्टिकल लाइफ की और बढ़ते चले जा रहे है जो एस्ट्रोलॉजी के लिए काफी बुरी बात है। आज के समय में ऐसा इसीलिए हो रहा है क्योंकि कई ढोंगी बाबा एस्ट्रोलॉजी का गलत फायदा उठा रहे है और पैसा कमा रहे है। लेकिन आज हम आपको अशुभ संकेत देने वाली उन चीज़ों के बारे मे बताने जा रहे है जी आपके लिए मृत्यु का कारण भी बन सकती है, जो एक डीएम सच्ची मानी गई है, जिसे आज भी बड़े बूढ़े मान्यता देते है।  कौआ को मैथुन करते हुए देखना बहुत ही अशुभ माना जाता है। ... Read more...
Logo
दूध को चंद्रमा और शांति का प्रतीक माना गया है। प्राचीन तांत्रिक ग्रंथों में बताए गए दूध के ऐसे ही टोने-टोटकों के बारे में जिन्हें करते ही असर दिखता है और आपकी समस्या तुरंत दूर होने लगती हैं। नजर दूर करने तथा अमीर बनने के लिए रविवार की रात सोते समय 1 गिलास में दूध भरकर अपने सिर के पास रखकर सो जाएं। ध्यान रखें, यह दूध फैलना नहीं चाहिए। अगले दिन सुबह उठने के बाद नित्य कर्मों से निवृत्त होकर इस दूध को किसी बबूल के पेड की जड़ में डाल दें। ऐसा हर रविवार रात करें। जिस आदमी पर इस उपाय को करेंगे, उसकी नजर दूर ह... Read more...
Logo
इस वर्ष की शुरूआत में ही कई ग्रहों में बदलाव हुआ है और कई ग्रह वक्री भी हुए हैं। ऐसे में जिस राशि पर शनिदेव की कुदृष्टि रहेगी उन्हें खासतौर पर लाल किताब के सुझाए कुछ खास उपाय करने चाहिए-  लग्न स्थित शनि अशुभ फल देता है। ऐसे में जातक को बंदरों की सेवा करनी चाहिए। चीनी मिला हुआ दूध बरगद के पेड़ की जड़ में डालकर गीली मिट्टी से तिलक करना चाहिए। झूठ नहीं बोलना चाहिए। दूसरों की वस्तुओं पर बुरी दृष्टि नहीं डालनी चाहिए।  शनि द्वितीय भावस्थ अशुभ फल देता हो तो जातक को अपने माथे पर दूध या दही का तिलक लगाना चा... Read more...
Logo
हनुमानजी को जिन आठ सिद्धियों का स्वामी तथा दाता बताया गया है, उन सिद्धियों के बारे में हर आदमी को जानना बेहद जरूरी है। इनके बारे में जानकारी होने भर से व्यक्ति समृद्ध होने लगता है- 1.अणिमा: इस सिद्धि के बल पर हनुमानजी कभी भी अति सूक्ष्म रूप धारण कर सकते हैं। इस सिद्धि का उपयोग हनुमानजी तब किया जब वे समुद्र पार कर लंका पहुंचे थे। हनुमानजी ने अणिमा सिद्धि का उपयोग करके अति सूक्ष्म रूप धारण किया और पूरी लंका का निरीक्षण किया था। अति सूक्ष्म होने के कारण हनुमानजी के विषय में लंका के लोगों को पता तक नही... Read more...
Logo
गुड केवल मुंह ही मीठा नहीं करता बल्कि जीवन को भी मधुर बना सकता है। वास्तु और ज्योतिष की मानें तो गुड के कुछ खास टोटके न केवल जिंदगी को संवार सकते हैं बल्कि खुशियों से भी लबरेज कर सकते हैं-  मनोकामना पूर्ण करने के लिए 7 गुड़ की डलियों के साथ, एक रुपए का सिक्का और हल्दी की 7 साबुत गाठें पीले कपड़े में वीरवार को बांधकर रेलवे लाईन के पार फेंक दें। फेंकते समय अपनी कामना बोलें। ऐसा करने से मनोकामना पूर्ण होगी।  अगर आप कर्ज से शीघ्र मुक्ति चाहते हैं तो भोजन में गुड़ का प्रयोग करने लगे। थोड़ा थोड़ा गुड़ खाते ... Read more...
Logo
भारतीय संस्कृति में तुलसी के पौधे का बहुत महत्व है और इस पौधे को बहुत पवित्र माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि जिस घर में यह तुलसी का पौधा नहीं होता उस घ में भगवान भी रहना पंसद नहीं करते। माना जाता है कि घर में आंगन में तुलसी का पौधा लगा कलह और दरिद्रता दूर करता है। तुलसी एक ऐसा पौधा है। जिसके लाभ अनेकानेक हैं और इसे विज्ञान भी मान चुका है। तुलसी के कई प्रकार हैं जैसे रक्त तुलसी, राम तुलसी, भू तुलसी, वन तुलसी, ज्ञान तुलसी, मुख्यरूप से विद्यमान है।  तुलसी की इन सभी प्रजातियों के गुण अलग है। इन्हीं में ... Read more...
Logo
धार्मिक ग्रंथों के अनुसार जीवन में कभी भी इन 5 लोगों के घर भोजन नहीं करना चाहिए नहीं तो न केवल जातक पाप का भागी बनता है बल्कि कष्ट भी झेलता है-  जो स्त्री स्वेच्छा से पूरी तरह अधार्मिक आचरण करती हो और चरित्रहीन हो या व्याहभिचारिणी हो। गरुड़ पुराण में लिखा है कि जो व्यक्ति ऐसी स्त्री के यहां भोजन करता है, वह भी उसके पापों का फल प्राप्त करता है।  न्यायालय में जिसका अपराधी सिद्ध हो जाए तो उसके घर का भोजन नहीं करना चाहिए। गरुड़ पुराण के अनुसार चोर के यहां का भोजन करने पर उसके पापों का असर हमारे जीवन प... Read more...
Logo
रोजगार के प्रतिस्पर्धा के क्षेत्र में सफलता पाना उत्तरोत्तर कठिन होता जा रहा है। विद्या और पुरूषार्थ के होते हुए भी सफलता नहीं मिलती। ऐसे में यहां दिए गये कुछ सरल उपायों, टोटकों और मंत्रों से सफलता मिलने की संभावना बन सकती है। यदि बेरोजगारी का घटाटोप हो रहा हो तो रोजगार का प्रकाश पाने के लिए इन टोटकों को कर के देखें।    कमाल का लेकिन है सात्त्विक टोटका  तीन सौ ग्राम काले उड़द का आटा लेकर, बिना छाने इसको गूंथकर खमीर उठा लें। तत्पश्चात् इसकी एक-एक रोटी तैयार करके मामूली-सी आंच पर सेंक लें, ताकि ... Read more...
Logo
धनागमन होने से पूर्व धनागमन का संकेत कई माध्यमों हमें मिलने लगता है। उन्हीं माध्यमों में से एक माध्यम है स्वप्न। स्वप्न फलों का अपना एक उत्तम इतिहास है। बडी-बडी होनी और अनहोनी होने से पहले बहुतों को संकेत मिला है। अत: हम यहां पर धन आगमन की पूर्व सूचना देने वाले स्वप्नों की चर्चा करने जा रहे हैं।  1.यदि आप स्वप्न में किसी देवी-देवता के दर्शन करते हैं तो समझिए कि आपको सफलता के साथ-साथ धन लाभ भी होने वाला है।  2.स्वप्न में नृत्य करती किसी स्त्री या कन्या को देखना भी धन प्राप्ति का संकेत माना गया है।&nb... Read more...
Logo
हनुमान जी का नाम लेने मात्र से ही भक्तों की हर समस्या का निवारण हो जाता है। भगवान राम ने भक्तों की रक्षा और उनके कल्याण के लिए हनुमान जी को इस पृथ्वी लोक में वास करने को कहा था और तभी से हनुमान जी इस कलियुग में सदा सहाय हुए हैं। हनुमान जी प्रसन्न हों तो शनि देव भी स्वतः प्रसन्न होते हैं। इसलिए शनि को मनाने के लिए हनुमान को भी पूजा जाता है।  हनुमान जी का पूजन बड़ी ही पवित्रता के साथ करना आवश्यक है। राम भक्त हनुमान जी की कृपा से आराधक के जीवन में आने वाले मृत्यु तुल्य कष्टों का भी सरलता से निवारण हो जात... Read more...
Logo
भारतीय ज्योतिष पद्वति की तरह ही अब दुनिया में चीनी फेंगशुई पद्वति भी खासी लोकप्रिय होती जा रही है। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे, जिन्हें अपनाकर आप अपने जीवन में धन की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं, साथ ही अपनी लाइफ से गायब हुई उस खुशी को भी दोबारा पा सकते हैं।  कोई भी जातक ऑफिस में किसी भी तरह की समस्‍या से परेशान हो तो वह ऑफिस में अपनी सीट के पीछे पहाड़ों की तस्वीर टांगें। इससे उनका आत्मविश्वास तो वापस आएगा ही साथ अन्‍या लोगों का सपोर्ट भी मिलने लगेगा। फेंगशुई के अनुसार खुली खिड़की की तरफ बै... Read more...









   INTERNATIONAL   
Pic
वॉशिंगटन (एजेंसी) >>>>>>> अमेरिकी राष्ट्रपति ... Read more
   ECONOMY   
Pic
नई दिल्ली (एजेंसी) >>>>>>> देश की चीनी मिलों और व्यापार... Read more
   ENTERTAINMENT   
Pic
साल 2018 की सबसे विवादित फिल्म पद्मावत रिलीज होने के... Read more